Home » Economy » Infrastructureट्रेनों में देरी पर रेलवे ने भेजे 33 लाख मैसेज -Railways sends 33 lakh SMSes in a month on train delays

ट्रेन में देरी पर रेलवे ने 1 माह में भेजे 33 लाख मैसेज, 3 नवंबर को शुरू हुई है सर्विस

मैसेज में इन ट्रेनों के 1 घंटा लेट होने की सूचना दी गई थी।

1 of
नई दिल्‍ली. रेलवे ने यात्रियों को ट्रेन में देरी को लेकर एसएमएस से सूचित करने की सर्विस शुरू होने के बाद से अब तक 33 लाख से ज्‍यादा मैसेज भेजे हैं। बता दें कि यह सर्विस 3 नवंबर 2017 को 102 प्रीमियम ट्रेनों को लेकर शुरू की गई थी। 7 दिसंबर तक राजधानी एक्‍सप्रेस के 23 पेयर्स, शताब्‍दी के 26 और तेजस व गतिमान एक्‍सप्रेस के 1-1 पेयर के यात्रियों को रेलवे की तरफ से देरी के 33,08,632 मैसेज मिले। मैसेज में इन ट्रेनों के 1 घंटा लेट होने की सूचना दी गई थी।
 

और 148 प्रीमियम ट्रेनों के लिए शुरू होगी सर्विस

रेलवे के एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने कहा कि इस सर्विस की सफलता को देखते हुए अगले साल तक इसे और 148 प्रीमियम ट्रेनों जैसे दूरंतो और सुविधा के यात्रियों के लिए भी बढ़ाया जाएगा। इस सर्विस को सेंटर फॉर रेलवे इन्‍फॉर्मेशन सिस्‍टम्‍स (CRIS) ने विकसित किया है। इसका लाभ लेने के लिए यात्रियों को रिजर्वेशन स्लिप्‍स पर अपना मोबाइल नंबर भी उल्लिखित करना होगा। 

 

यात्रियों के लिए पूरी तरह मुफ्त है यह सर्विस 

रेलवे की तरफ से दी जाने वाली यह एसएमएस सर्विस यात्रियों के लिए पूरी तरह मुफ्त है और इसका खर्च रेलवे उठाता है। यह सर्विस केवल प्रीमियम ट्रेनों के यात्रियों के लिए है। अन्‍य ट्रेनों के यात्रियों के लिए एक दूसरी सर्विस है, जिसमें उन्‍हें ट्रेन के कैंसिल या रिशिड्यूल होने की सूचना देने के लिए मैसेज भेजा जाता है। इसके अलावा अगर ट्रेन तीन घंटे लेट हो तो उन्‍हें मैसेज से सूचित किया जाता है। 
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट