विज्ञापन
Home » Economy » InfrastructurePrivate bus operators cash in on festive rush double fares

होली पर घर जाने वाले यात्रियों की आई शामत, हजार के बदले 4000 रुपए चुका कर भी नहीं मिल रही सीट, बस की छत पर सफर करने को मजबूर

ट्रेनों  में वेटिंग 100 से 500 तक

Private bus operators cash in on festive rush double fares

Private bus operators cash in on festive rush double fares होली पर घर जाने वाले यात्रियों को इस साल काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जहां लोग आम दिनों में कम पैसों में आराम से अपने घर पहुंच जाते हैं वहीं होली के चलते लोगों को दो गुना पैसे देकर घर जाना पड़ रहा है। दिल्ली से बाकी शहरों में जाने वाली बसों की हालत इतनी खराब है कि उन्हें बैठने की सीटें नहीं मिल रही है जिसके चलते लोगों को बसों में लटक कर सफर करना पड़ रहा है।

नई दिल्ली। होली पर घर जाने वाले यात्रियों को इस साल काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जहां लोग आम दिनों में कम पैसों में आराम से अपने घर पहुंच जाते हैं वहीं होली के चलते लोगों को दो गुना पैसे देकर घर जाना पड़ रहा है। दिल्ली से बाकी शहरों में जाने वाली बसों की हालत इतनी खराब है कि उन्हें बैठने की सीटें नहीं मिल रही है जिसके चलते लोगों को बसों में लटक कर सफर करना पड़ रहा है। दिल्ली के आनंद विरहार बस अड्डे पर निजी बस संचालक लोगों से तीन गुना पैसे ले रहे हैं। वहीं आईजीआई से रांची जाने वाली फ्लाइट्स भी लोगों से नकाफी अधिक पैसे ले रही हैं। हालत इतनी खराब है कि कई  यात्री बसों की छतों पर सफर करने के लिए मजबूर हो गए हैं। ईडीएम मॉल के पास से बिहार जाने वाली निजी बसों के संचालकों ने यात्रियों से 2500 से लेकर 4000 रुपए तक का किराया लिया। जबकि सामान्य दिनों में 1200 से 1500 रुपए तक किराया लिया जाता है। 

तत्काल टिकट के लिए भी मारामारी


जिन लोगों को शुक्रवार के लिए तत्काल टिकट नहीं मिल पाया था, उन्होंने शनिवार को जाने के लिए तत्काल टिकट के लिए सुबह से ही लाइन लगा ली। 10 बजे जब एसी दर्जे का तत्काल खुला तो उस समय आरक्षण केन्द्रों पर भीड़ रही। एसी दर्जे का टिकट नहीं मिलने पर दोबारा 11 बजे स्लीपर का रिजर्वेशन खुलने पर वहां लोगों की भीड़ स्लीपर के टिकट लेने के लिए लग गई। टिकट काउंटर पर पर लखनऊ, वाराणसी, इलाहाबाद, गोरखपुर, पटना, मुजफ्फरपुर जाने वाली ट्रेनों  में वेटिंग 100 से 500 तक है। इसके कंफर्म होने की संभावना ना के बराबर है। 

रोडवेज ने चलाईं 100 अतिरिक्त बसें

शुक्रवार सुबह जब पुष्पक एक्सप्रेस लखनऊ पहुंची तो उससे आए सैकड़ों लोगों को गोरखपुर, देवरिया, गोंडा व बहराइच जाने के लिए रोडवेज अफसरों को दर्जनभर अतिरिक्त बसें चलानी पड़ीं। दोपहर से लेकर शाम तक दिल्ली के लिए 35 साधारण व 15 एसी स्पेशल बसें भेजी गईं। इन बसों में शुक्रवार रात से लेकर शनिवार सुबह तक आनंद विहार बस अड्डे से गोरखपुर, बस्ती, मऊ, गाजीपुर व वाराणसी के लोगों को आने की सुविधा मिलेगी। इसके साथ ही रोडवेज ने सुलतानपुर, बहराइच, गोंडा, गोरखपुर, फैजाबाद, आगरा, चित्रकूट, बस्ती, इलाहाबाद, लखीमपुर, बरेली, शाहजहांपुर सहित कई जगहों के लिए 50 अतिरिक्त बसें चलाकर लोगों को भेजा गया। चारबाग व कैसरबाग बस स्टेशन के साथ ही पॉलिटेक्निक चौराहे पर रात तक आसपास के जिलों के लिए जाने वालों की भीड़ जमी रही।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन