बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Infrastructureगूगल सर्च पर मि‍ल रही आधार की डि‍टेल, UIDAI ने कहा लोग बरतें सावधानी

गूगल सर्च पर मि‍ल रही आधार की डि‍टेल, UIDAI ने कहा लोग बरतें सावधानी

आधार जारी करने वाली अथॉरि‍टी UIDAI ने सभी आधार धारकों को आगाह कि‍या है।

1 of

नई दि‍ल्‍ली। आधार जारी करने वाली अथॉरि‍टी UIDAI ने सभी आधार धारकों को आगाह कि‍या है। UIDAI  का कहना है कि‍ इंटरनेट के माध्‍यम से कि‍सी सेवा को लेने वाले लोग पर्सनल इनफॉर्मेशन देते वक्‍त खासी सावधानी बरतें। 
अथॉरि‍टी ने इन रि‍पोर्ट को ज्‍यादा तवज्‍जो नहीं दी, जि‍नमें कहा जा रहा है कि 'मेरा आधार, मेरी पहचान' से गूगल पर सर्च करने पर आधार की पीडीएफ उपलब्‍ध है। इस पर UIDAI  का कहना है कि‍ इस मामले का आधार की डाटाबेस की सुरक्षा से कुछ लेनादेना नहीं है। अथॉरि‍टी की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि‍ लोग किसी सेवा को हासि‍ल करने के लि‍ए इंटरनेट पर कि‍सी वेंडर को अपनी जानकारी देते हैं, जि‍समें आधार डि‍टेल भी शामि‍ल होती है। इसलि‍ए लोगों को आगाह कि‍या जाता है कि‍ इंटरनेट पर डि‍टेल शेयर करते वक्‍त सावधानी बरतें। 


गोपनीय डॉक्‍यूमेंट नहीं है आधार 
यूआईडीएआई ने कहा कि आधार डाटाबेस पूरी तरह से सुरक्षि‍त है। बयान में कहा गया है कि ये खबरें सच्‍चाई से कहीं परे हैं और इनका आधार के डाटाबेस की सुरक्षा से कुछ लेनादेना नहीं है, क्‍योंकि जो भी आधार कार्ड नजर आ रहे हैं उनमें से कोई भी हमारे डाटाबेस नहीं लि‍या गया है। 
UIDAI  की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि अन्‍य सभी पहचान पत्रों की तरह आधार भी एक गैर गोपनीय डॉक्‍यूमेंट है। केवल कि‍सी के आधार की जानकारी हो जाने से कोई कि‍सी की पहचान नहीं चुरा सकता क्‍योंकि यहां बायोमि‍ट्रि‍क्‍स मैच करना जरूरी है। 


खुद करें सुरक्षा 
जैसे मोबाइल नंबर, बैंक एकाउंट नंबर, पैन कार्ड,पासपोर्ट व परि‍वार की डि‍टेल देते वक्‍त हम ध्‍यान रखते हैं वैसे ही आधार की डि‍टेल देने वक्‍त भी हमें सावधानी बरतनी चाहि‍ए। अगर कोई गौर कानूनी तरीके से कि‍सी का अधार कार्ड, मोबाइल नंबर, बैंक एकाउंट या तस्‍वीर छापता है तो उसपर मुआवजे का दीवानी मामला दायर कि‍या जा सकता है। यह केस वो शख्‍स कर सकता है जि‍सकी प्राइवेसी का उल्‍लंघन हुआ है। 


हालांकि इस तरह से कार्ड की डि‍टेल कहीं इंटरनेट पर छप जाने से इसकी सुरक्षा को कोई खतरा नहीं होता। आधार डाटा सुरक्षि‍त है। यह बयान उन खबरों के बीच आया है , जि‍नमें कहा गया है कि‍ आधार की डिटेल थर्ड पार्टी वेबसाइट्स के माध्‍यम से इंटरनेट पर मौजूद है और गूगल पर सर्च करेंगे तो कई लोगों की आधार डि‍टेल हासि‍ल हो जाएगी। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट