विज्ञापन
Home » Economy » InfrastructureNTAC suggest construction of Night Safari, Adventure Tourism, Ropeway among near Statue of Unity

Statue of Unity के पास बनेगा नाइट सफारी, डैम में बोटिंग कर सकेंगे पर्यटक, ये है पूरा प्लान

डैम के पास पर्यटकों के लिए बनाए जाएंगे सस्ते होटल

1 of

नई दिल्ली। गुजरात के केवड़िया में स्थित सरदार वल्लभ भाई पटेल के Statu of Unity को देखने आने वालों की संख्या बढ़ाने के उद्देश्य से नेशनल टूरिज्म एडवाइजरी काउंसिल (NTAC) ने इसके नाइट सफारी समेत कई और प्रोजेक्ट बनाने की सिफारिश की है। 

 

गुजरात टूरिज्म की बैठक में की सिफारिश
पीएमओ की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, नेशनल टूरिज्म एडवाइजरी काउंसिल ने गुरुवार को गुजरात टूरिज्म के अधिकारियों के साथ एक बैठक की। बैठक में बताया गया कि 2019 में Statu of Unity को देखने के लिए 30 लाख लोगों के आने की संभावना है। इस बैठक में पर्यटकों की इस संख्या को बढ़ाकर 50 लाख करने पर विचार किया गया। गुजरात टूरिज्म के अधिकारियों से विचार विमर्श के बाद नेशनल टूरिज्म एडवाइजरी काउंसिल ने Statu of Unity के पास नाइट सफारी समेत पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए कई और प्रोजेक्ट के निर्माण की सिफारिश की। 

ये प्रोजेक्ट बनाने की सिफारिश


- नाइट सफारी का निर्माण।
- डैम और सफारी के बीच रोपवे का निर्माण।
- डैम से लेकर स्टेच्यू तक नीचे की ओर 10 किमी लंबे चेक डैम का निर्माण। इसमें पर्यटक बोटिंग का वाटर स्पोर्ट्स का आनंद ले सकेंगे।
- अंतरराष्ट्रीय स्तर का एम्यूजमेंट पार्क।
- आदिवासियों पर आधारित म्यूजियम।
- पर्यटकों की सुविधा के लिए Statu of Unity के पास राज्य सरकार के भवन का निर्माण।
- सभी राज्यों के पकवान उपलब्ध कराने के लिए रेस्टोरेंट कॉम्प्लैक्स का विस्तार।
- पर्यटकों के लिए एडवेंचर टूरिज्म का विकास।
- पर्यटकों के लिए बांध में बोटिंग की सुविधा।
- नर्मदा वैली की ओर से उपलब्ध कराई गई जमीन पर बड़ी संख्या में  मध्यम स्तर के होटलों का निर्माण।
- Statu of Unity से गुजरात के विभिन्न शहरों के लिए हेलीकॉप्टर सुविधा।
- डैम से विभिन्न स्थानों के लिए सीप्लेन की सुविधा की शुरुआत।

गुजरात सरकार ने बनाई थी योजना


प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी बयान के अनुसार Statu of Unity के पास पर्यटकों को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने और ज्यादा से ज्यादा पर्यटकों को लुभाने के लिए यह योजना बनाई थी। अब नेशनल टूरिज्म एडवाइजरी काउंसिल ने इन सुविधाओं को विकसित करने की सिफारिश की है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss