विज्ञापन
Home » Economy » InfrastructureKartarpur corridor civil construction work starts from punjab

पाकिस्तान की अडंगेबाजी के बीच शुरू हुआ करतारपुर कॉरिडोर का काम, किसानों ने 50 एकड़ जमीन सौंपी

26 नवंबर 2018 को उपराष्ट्रपति ने रखी थी आधारशिला

1 of

नई दिल्ली। पाकिस्तान के गुरूद्वारा श्री करतारपुर साहिब के सीधे दर्शनों के लिए बनाए जा रहे कॉरिडोर का शिलान्यास के 112 दिन बाद निर्माण शुरू हो गया। इस कॉरिडोर के निर्माण के लिए सोमवार को किसानों ने 50 एकड़ जमीन नेशनल हाईवे अथॉरिटी के अधिकारियों को सौंप दी। इसके साथ ही पंजाब के कैबिनेट मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने जेसीबी से जमीन की खुदाई कराकर निर्माण कार्य का शुभारंभ कराया।

100 करोड़ रुपए खर्च करेगी पंजाब सरकार
इस कॉरिडोर के तहत भारत में 2 किलोमीटर और पंजाब में 3 किलोमीटर कॉरिडोर बनाया जाएगा। भारत में बनने वाले कॉरिडोर पर पंजाब सरकार करीब 100 करोड़ रुपए खर्च करेगी। इसमें सड़क निर्माण के साथ श्रद्धालुओं के लिए सुविधाएं उपलब्ध कराना भी शामिल है। इसके तहत श्रद्धालुओं के लिए सराय, वाहन स्टैंड, कैफेटेरिया, बैंकों की ब्रांच और एटीएम का निर्माण शामिल है। इस कॉरिडोर का निर्माण नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) कर रहा है। आपको बता दें कि अभी करतारपुर जाने वाले श्रद्धालुओं को लेकर पाकिस्तान अडंगेबाजी लगा रहा है। इसको लेकर 2 अप्रैल को दोबारा दोनों देशों के अधिकारी बातचीत करेंगे।
 

सबसे पहले होगा चेकपोस्ट, टर्मिनल का निर्माण


करतारपुर कॉरिडोर के लिए कई किसानों ने करीब 50 एकड़ जमीन NHAI को सौंप दी है। इस जमीन पर मुख्य मार्ग के अलावा चेकपोस्ट और टर्मिनल का निर्माण किया जाएगा। पंजाब के कैबिनेट मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा का कहना है कि कॉरिडोर के लिए जमीन देने वाले किसानों को उचित मुआवजा दिया जाएगा। 
 

26 नवंबर 2018 को रखी गई थी आधारशिला


सिख श्रद्धालुओं को गुरूद्वारा श्री करतारपुर साहिब के सीधे दर्शन कराने के उद्देश्य से इस भारत और पाकिस्तान मिलकर इस कॉरिडोर का निर्माण कर रहे हैं। इस कॉरिडोर की आधारशिला 26 नवंबर 2018 को उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू और पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने रखी थी। 
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन