Home » Economy » InfrastructureSBI loan for grid connected rooftop solar pv program

इनकम के लिए छत पर लगाना चाहते हैं सोलर पैनल, लागत का 75% तक देगा SBI

हाल में छत पर लगने वाले सोलर पैनल की बेंचमार्क कॉस्‍ट घट गई है। इससे 5kw का सोलर प्‍लांट 50000 रु. तक सस्‍ता हो गया है।

1 of

नई दिल्‍ली. अगर आपके घर की छत खाली पड़ी है तो आप उसे कमाई का जरिया बना सकते हैं। आप छत पर सोलर प्‍लांट लगाकर बिजली बना सकते हैं और इसे सरकार या बिजली कंपनियों को बेचकर कमाई कर सकते हैं। इस काम में आपकी मदद SBI करेगा। दरअसल SBI सरकार के ि‍ग्रिड कनेक्‍टेड रूफटॉप सोलर PV प्रोग्राम में सहयोग करने के लिए रूफटॉप सोलर प्‍लांट लगाने वाले लोगों को लागत का 75 फीसदी लोन के तौर पर ऑफर कर रहा है। 

 

हाल ही में सरकार ने छत पर लगने वाले सोलर पैनल की बेंचमार्क कॉस्‍ट घटाई है। इससे अब 5kw का सोलर प्‍लांट 50 हजार रुपए तक सस्‍ता हो गया है। मिनिस्‍ट्री ऑन न्‍यू एंड रिन्‍यूएबल एनर्जी (MNRI) ने इसी सप्‍ताह जारी अपने एक आदेश में बेंचमार्क कॉस्‍ट की घोषणा की है।

 

कैपेसिटी    बेंचमार्क कॉस्‍ट (2018-19) बेंचमार्क कॉस्‍ट (2017-18)
1 kw  से 10kw तक  60 हजार रुपए प्रति kw  70 हजार रुपए प्रति kw
10 से 100kw तक 55 हजार रुपए प्रति kw 65 हजार रुपए प्रति kw
100 से 500kw तक   53 हजार प्रति kw

60 हजार रुपए प्रति kw 

 

 

ऐसे होती है कमाई

अगर आप छत पर बनी सोलर एनर्जी  को बेचना चाहते हैं तो आपको अपने एरिया की बिजली वितरण कंपनी (डिस्‍कॉम्‍स) को बेच सकते हैं। इसके लिए आपको समझौता करना होगा, जिसे पावर परचेज एग्रीमेंट कहा जाता है। इसके बाद कंपनी आपके घर पर मीटर लगा देगी, इस मीटर में आपकी छत में लगे सोलर प्‍लांट से कितनी बिजली ग्रिड में सप्‍लाई की गई, उसका रिकॉर्ड दर्ज होगा। इसके हर राज्‍य में अलग-अलग रेट हैं, जो 5 से लेकर 8 रुपए प्रति यूनिट हैं। हर माह बिजली कंपनी आपके मीटर में रिकॉर्ड यूनिट के आधार पर आपको पेमेंट करेगी। 

 

आइए आपको बताते हैं कि छत पर बिजली बनाने के बिजनेस में SBI आपकी मदद कैसे कर रहा है- 

 

लागत का 75% तक देगा लोन के तौर पर

लोगों की छत पर सोलर प्‍लांट लगाने में मदद करने के लिए SBI ने विशेष तौर पर वर्ल्‍ड बैंक से लाइन ऑफ क्रेडिट लिया है। SBI पूरे सोलर प्रोजेक्‍ट की कुल लागत का 75 फीसदी तक लोन के रूप में दे रहा है। SBI की सभी कॉरपोरेट अकाउंट ग्रुप ब्रांच, मिड कॉरपोरेट ग्रुप ब्रांच और SMI ब्रांच इस तरह के लोन मुहैया कराएंगी। लोन को चुकाने के लिए 15 साल तक का समय दिया जाएगा। लोन के लिए ब्‍याज दर SBI की 1 साल की MCLR यानी 8.25 फीसदी प्‍लस 0.2 से लेकर 0.5 फीसदी तक अतिरिक्‍त ब्‍याज दर होगी। यानी कुल ब्‍याज दर 8.75 फीसदी तक जाएगी। 

 

कौन ले सकता है लोन

कोई भी इन्‍सान अकेले प्रोपराइटर के तौर पर, पार्टनरशिप फर्म/ इन्‍क्‍लूडिंग LLP व कंपनी/स्‍पेशल पर्पस व्‍हीकल/NBFC बॉरोअर या उनकी पेरेंट कंपनी SBI से रूफटॉप सोलर सिस्‍टम लगाने के लिए लोन को लेकर अप्‍लाई कर सकते हैं। 


- इसके लिए उनके पास पावर सेक्‍टर में कम से कम 1 साल का एक्‍सपीरियंस या पास्‍ट ट्रैक रिकॉर्ड होना चाहिए। 
- उनकी CRA रेटिंग SB-10 और उससे अच्‍छी होनी चाहिए, साथ ही 10 करोड़ रुपए या उससे ज्‍यादा के लोन के लिए ECR अनिवार्य है। 

 

लोन के लिए लगेंगे ये प्रूफ

- आवेदनकर्ता और गारंटर की ID या एड्रेस प्रूफ जैसे- वोटर ID, पैन नंबर, आधार नंबर आदि। 
- आवेदनकर्ता और गांरटर के पिछले तीन फाइनेंशियल ईयर्स के इनकम टैक्‍स रिटर्न, वेल्‍थ टैक्‍स रिटर्न्‍स। 
- आवेदनकर्ता और उसके सहयोगियों की पिछले तीन सालों के बिजनेस की सालाना रिपोर्ट, जिसमें ऑडिटेड बैलेंस शीट और ट्रेडिंग व प्रॉफिट या लॉस अकाउंट मौजूद हो।

 

आगे पढ़ें- ये चाहिए होगी गांरटी

कैसे दी जाएगी गारंटी

- कोई इन्‍सान/पार्टनरशिप फर्म/कंपनी, रूफटॉप सोलर पावर प्रोक्‍डशन के लिए लोन को लेकर अप्‍लाई करती है तो प्रोपराइटर/पार्टनर्स/डायरेक्‍टर्स की पर्सनल गारंट की डिमांड की जाएगी। 
- स्‍पेशल पर्पस व्‍हीकल्‍स/एसोसिएट्स/सब्‍सडियरीज के लोन लेने पर स्‍पॉन्‍सर की कॉरपोरेट गारंटी चाहिए होगी। 

 

आगे पढ़ें- आवेदक कंपनी को देने होंगे ये प्रूफ

अगर आवेदनकर्ता कंपनी है तो देने होंगे ये प्रूफ 

- अगर आवेदनकर्ता कोई कंपनी है तो उसके मेमोरेंडम एंड आर्टिकल्‍स ऑफ एसोसिएशन, सर्टिफिकेट ऑफ कमेन्‍समेंट ऑफ बिजनेस लगेंगे। 
- पिछले तीन साल का सेल्‍स टैक्‍स रिटर्न
- डिटेल्‍ड प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट की कॉपी, प्रोजेक्‍टेड बैलेंस शीट, प्रॉफिट व लॉस अकाउंट, कैश फ्लो स्‍टेटमेंट आदि। 
- रिसोर्सेज स्‍टडी की कॉपी

 

आगे पढ़ें- सरकार से मिलती है सब्सिडी

सरकार देगी सब्सिडी

सरकार द्वारा रेसिडेंशियल सेक्‍टर को 30 फीसदी सब्सिडी दी जाती है। यानी कि अगर आप किसी कंपनी से बेंचमार्क कॉस्‍ट के हिसाब से 5 किलोवाट का सोलर प्‍लांट लगवाते हैं तो आपको 3 लाख रुपए पर 90 हजार रुपए की सब्सिडी मिल जाएगी। यानी 5 कि‍लोवाट का सोलर प्‍लांट लगाने पर 3 लाख रुपए का खर्च आएगा, जि‍समें से 90 हजार रुपए आपको सब्‍सि‍डी के रूप में मि‍लेंगे। ऐसे में कुल इफेक्‍टि‍व लागत 2.10 लाख रुपए होगी।

 

सोर्स- https://www.sbi.co.in/webfiles/uploads/files/SBI_WORLD_BANK.pdf

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट