Home » Economy » Infrastructureघर की छत से करना चाहते हैं कमाई, तो SBI दे रहा मदद- SBI is giving loan for GRID CONNECTED ROOFTOP SOLAR PV PROGRAM

अगर आपके पास है छत, तो SBI दे रहा कमाई का मौका

अगर आपके घर की छत यूं ही खाली पड़ी है तो आप उसे कमाई का जरिया बना सकते हैं।

1 of

नई दिल्‍ली. अगर आपके घर की छत यूं ही खाली पड़ी है तो आप उसे कमाई का जरिया बना सकते हैं। आप छत पर सोलर प्‍लांट लगाकर बिजली बना सकते हैं और इसे सरकार या बिजली कंपनियों को बेचकर कमाई कर सकते हैं। इस काम में आपकी मदद SBI करेगा।

 

बता दें कि नरेंद्र मोदी सरकार ने सत्‍ता में आने के बाद देश में सोलर पावर प्रोडक्‍शन का टारगेट लगभग पांच गुना बढ़ा दिया है। साथ ही, सरकार ने लोगों से अपील की है कि वे अपने घर की छत पर सोलर प्‍लांट से बिजली बनाकर इस लक्ष्‍य को पूरा करने में सहायक बनें। इसके लिए http://solarrooftop.gov.in/login पर लॉग इन करके आसानी से अप्‍लाई कर सकते हैं। इसके अलावा मोबाइल ऐप अरुण डाउनलोड कर स्‍कीम की पूरी जानकारी ले सकते हैं। 

 

आगे पढ़ें- SBI कैसे दे रहा मौका 

SBI कैसे देगा मदद 

सरकार की इस स्‍कीम के लिए SBI ने विशेष तौर पर वर्ल्‍ड बैंक से लाइन ऑफ क्रेडिट लिया है ताकि इस स्‍कीम का लाभ लेने वालों को लोन मुहैया करा सके। SBI पूरे सोलर प्रोजेक्‍ट की कुल लागत का 75 फीसदी तक लोन के रूप में दे रहा है। SBI की सभी कॉरपोरेट अकाउंट ग्रुप ब्रांच, मिड कॉरपोरेट ग्रुप ब्रांच और एसएमई ब्रांच इस तरह के लोन मुहैया कराएंगी। लोन को चुकान के लिए 15 साल तक का समय दिया जाएगा। 

 

आगे पढ़ें- कौन है लोन के लिए योग्‍य 

कौन ले सकता है लोन

कोई भी इन्‍सान अकेले प्रोपराइटर के तौर पर, पार्टनरशिप फर्म/ इन्‍क्‍लूडिंग एलएलपी व कंपनी/स्‍पेशल पर्पस व्‍हीकल/एनबीएफसी बॉरोअर या उनकी पेरेंट कंपनी एसबीआई से रूफटॉप सोलर सिस्‍टम लगाने के लिए लोन को लेकर अप्‍लाई कर सकते हैं। 
- इसके लिए उनके पास पावर सेक्‍टर में कम से कम 1 साल का एक्‍सपीरियंस या पास्‍ट ट्रैक रिकॉर्ड होना चाहिए। 
- उनकी सीआरए रेटिंग एसबी-10 और उससे अच्‍छी होनी चाहिए, साथ ही 10 करोड़ रुपए या उससे ज्‍यादा के लोन के लिए ईसीआर अनिवार्य है। 

 

आगे पढ़ें- गारंटी पर क्‍या है नियम

लोन के लिए लगेंगे ये प्रूफ 

- आवेदनकर्ता और गारंटर की आईडी या एड्रेस प्रूफ जैसे- वोटर आईडी, पैन नंबर, आधार नंबर आदि। 
- आवेदनकर्ता और गांरटर के पिछले तीन फाइनेंशियल ईयर्स के इनकम टैक्‍स रिटर्न, वेल्‍थ टैक्‍स रिटर्न्‍स। 
- आवेदनकर्ता और उसके सहयोगियों की पिछले तीन सालों के बिजनेस की सालाना रिपोर्ट, जिसमें ऑडिटेड बैलेंस शीट और ट्रेडिंग व प्रॉफिट या लॉस अकाउंट मौजूद हो। 

 

आगे पढ़ें- कंपनी को देने होंगे कौन से प्रूफ 

कैसे दी जाएगी गारंटी

- कोई इन्‍सान/पार्टनरशिप फर्म/कंपनी, रूफटॉप सोलर पावर प्रोक्‍डशन के लिए लोन को लेकर अप्‍लाई करती है तो प्रोपराइटर/पार्टनर्स/डायरेक्‍टर्स की पर्सनल गारंट की डिमांड की जाएगी। 
- स्‍पेशल पर्पस व्‍हीकल्‍स/एसोसिएट्स/सब्‍सडियरीज के लोन लेने पर स्‍पॉन्‍सर की कॉरपोरेट गारंटी चाहिए होगी। 

 

आगे पढ़ें- देने होंगे कौन से प्रूफ 

अगर आवेदनकर्ता कंपनी है तो देने होंगे ये प्रूफ 

- अगर आवेदनकर्ता कोई कंपनी है तो उसके मेमोरेंडम एंड आर्टिकल्‍स ऑफ एसोसिएशन, सर्टिफिकेट ऑफ कमेन्‍समेंट ऑफ बिजनेस लगेंगे। 
- पिछले तीन साल का सेल्‍स टैक्‍स रिटर्न
- डिटेल्‍ड प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट की कॉपी, प्रोजेक्‍टेड बैलेंस शीट, प्रॉफिट व लॉस अकाउंट, कैश फ्लो स्‍टेटमेंट आदि। 
- रिसोर्सेज स्‍टडी की कॉपी 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट