Home » Economy » Infrastructurezojila tunnel Jammu and Kashmir narendra modi govt जोजिला टनल, जम्‍मू कश्‍मीर नरेंद्र मोदी लेह

कश्मीर को 12 महीने कनेक्ट करने वाली 5 सुरंग, बनवा रही है मोदी सरकार

दरअसल ये सुरंग ऐसे इलाकों में बन रही हैं, जो इलाके बर्फबारी के चलते 6 माह तक बर्फबारी में ढके रहते हैं...

1 of

नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को जम्मू-कश्मीर में लेह-लद्दाख क्षेत्र से जोड़ने वाली एशिया की सबसे लंबी टू-लेन जोजिला सुरंग परियोजना का शिलान्यास किया। सुरंग बनने के बाद जोजिला से गुजरने में लगने वाला वक्त 3.5 घंटे से घटकर सिर्फ 15 मिनट रह जाएगा। श्रीनगर-कारगिल व लेह के बीच हर मौसम की कनेक्टिविटी बनाए रखने में भी यह सुरंग बेहद अहम होगी। 14.2 किमी लंबी इस सुरंग की अनुमानित लागत 6,809 करोड़ रुपए है। परियोजना को पूरा करने के लिए सात साल का लक्ष्य तय किया गया है। केंद्रीय परिवहन मंत्रालय के मुताबिक, "जोजिला सुरंग परियोजना की प्लानिंग एक स्मार्ट सुरंग के तौर की गई है। इसमें सुरक्षा के नए व लेटेस्ट फीचर्स हैं। सुरंग में वेंटिलेशन, विद्युत आपूर्ति, इमरजेंसी लाइटिंग, सीसीटीवी, वैरिएबल मैसेज साइन, ट्रैफिक लॉगिंग इक्विपमेंट, ओवर हाइट व्हीकल डिटेक्शन, टनल रेडियो सिस्टम जैसे फीचर्स होंगे।"  

 

बनेंगी चार और सुरंग 
बता दें कि जम्‍मू कश्‍मीर में इन्‍फ्रा को बूस्‍ट देने के लिए सरकार आने वाले कुछ दिनों में 4 और सुरंगें बनाने पर काम कर रही है। इसमें से कुछ पर काम शुरू हो चुका है, जबकि कुछ पर काम जारी है। आइए जानते हैं इन्‍हीं सुरंगों के बारे में। साथ ही यह भी जानतें हैं कि इन सुरंगों पर कितनी लागत आएगी और इन्‍हें पूरा करने की डेटलाइन कब है। इनका निर्माण नेशनल हाई-वे एंड इंफ्रास्‍टक्‍चर डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन की ओर से कराया जा रहा है। जोजिला समेत ये सभी सुरंगें कश्‍मीर को देश के बाकी हिस्‍से से 12 महीने कनेक्‍ट रखेगी। दरअसल ये सुरंग ऐसे इलाकों में बन रही हैं, जो इलाके बर्फबारी के चलते 6 माह तक बर्फबारी में ढके रहते हैं। इन सभी 5 परियोजनाओं की अनुमानित लागत 23,000 करोड़ रुपए है।  

 
 

नंबर-1: पीर की गली टनल
लंबाई: 8.5 km
अनुमानिल लागत: 4,200 करोड़ रुपए 
जोड़ेगी: बाल्‍टाल को मिनी मार्ग से 
डेटलाइन: 2022 

 

 

नंबर-2: वैलू टनल 
लंबाई: 8-10km 
अनुमानित लागत: 4,000 करोड़ रुपए
जोड़ेगी: वैलू को सिंहपुरा से 
डेटलाइन: 2021   

 

 

 

नंबर-3: दारंगा टनल 
लंबाई: 4.5 km
अनुमानित लागत: 2,500 करोड़ रुपए
जोड़ेगी: दारंगा को सुधमहादेव से  
डेटलाइन: 2021   

 

 

नंबर-4: जेड (Z) मोड़ टनल 
लंबाई: 6.5 km 
अनुमानित लागत: 4,000 करोड़ रुपए 
जोड़ेगी: श्रीनगर को करगिल से  
डेटलाइन: 2020    

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Don't Miss