Home » Economy » InfrastructureIndian railway is giving 10 new facilities

नो बि‍ल-फ्री फूड और 0 चार्ज सहि‍त रेलवे ने शुरू की 10 सुवि‍धाएं

आप ट्रेन से सफर करते हैं तो पहले के मुकाबले अब कई नई सुवि‍धाओं का फायदा उठा सकते हैं।

1 of

नई दि‍ल्‍ली। अगर आप ट्रेन से सफर करते हैं तो पहले के मुकाबले अब कई नई सुवि‍धाओं का फायदा उठा सकते हैं। बीते कुछ दि‍नों में रेलवे ने सेवा की क्‍वालि‍टी को बढ़ाने के लि‍ए एक के बाद एक कई पहल शुरू की हैं, जिन्‍होंने टि‍कट बुक कराने सहि‍त यात्रा को सहूलि‍यतों को और बढ़ा दि‍या है। हम आपको ऐसे 10 बदलावों की जानकारी दे रहे हैं।


1 बिल देने पर ही वेंडर को दें पैसा  -  रेलवे ने 'नो बिल, फ्री फूड पॉलिसी' लागू कर दी है। इसका मतलब ये है कि‍ अगर ट्रेन में वेंडर आपको खाने का बि‍ल नहीं देता है तो आप उसे पैसे भी ना दें। वेंडर आपको बि‍ल देने से इनकार नहीं कर सकता। ट्रेनों में ओवरचार्ज की कई शि‍कायतें आने के बाद रेलवे प्रशासन ने यह कदम उठाया है। 


2 वेटिंग टिकट कन्फर्म होने का चांस 
रेलवे ने हाल ही में एक नई सेवा का ऐलान किया है। इस सेवा के जरिए टिकट बुक करवाते समय वेटिंग में टि‍कट बुक करवाने वालों को यह पता चल जाएगा कि‍ उन्‍हें बर्थ मि‍लने के चांस कि‍तना है। रेलवे ने 13 साल की हिस्‍ट्री और पैटर्न के आधार पर यह ऑटोमेटि‍क सि‍स्‍टम बनाया है। आईआरसीटीसी की नई वेबसाइट पर यह सुवि‍धा शुरू हो गई है।  आगे पढ़ें 

 

3 बि‍ना लॉग इन इंक्‍वायरी
आईआरसीटीसी की नई वेबसाइट पर एक नई सेवा ये भी शुरू हुई है। आप लॉग इन कि‍ए बि‍ना इन्‍क्‍वायरी, ट्रेन व सीट उपलब्‍धता सर्च कर सकते हैं। पहले इतने काम के लि‍ए भी आपको लॉग इन करना होता था। कई बार capacha के चलते इसमें परेशानी होती थी। अब ऐसा नहीं होगा, अगर आपके पास यूजर आईडी और पासवर्ड नहीं है तो भी आप इन्‍क्‍वायरी कर सकते हैं। 


4 ईको फ्रेंडली थाली
प्‍लास्‍टि‍क और थर्मोकोल से होने वाले प्रदूषण को कम करने के लि‍ए रेलवे ने ट्रेन में अब ईको फ्रेंडली थाली का यूज करना शुरू कर दि‍या है। यह थाली प्राकृति‍क रूप से खुद नष्‍ट हो जाती है। अभी 4 राजधानी और 4 शताब्‍दी ट्रेनों में इसकी शुरुआत की गई है मगर जल्‍द ही हर ट्रेन में इसी तरह की थाली और कटोरि‍यों में खाना परोसा जाएगा। यह थालि‍यां गन्‍ने की खोई (रस नि‍कालने के बाद गन्‍ने का बचा हि‍स्‍सा) से बनती हैं। 

 

5 एप से खरीदें जनरल टि‍कट
रेलवे के दि‍ल्‍ली जोन के वि‍भि‍न्‍न रूटों पर जनरल टि‍कट से यात्रा करने वालों को अब टि‍कट के लि‍ए काउंटर पर लाइन नहीं लगानी होगी। वह यूटीएस ऑन मोबाइल एप से टि‍कट खरीद सकेंगे। दि‍ल्‍ली मंडल में फि‍लहाल पायलट प्रोजेक्‍ट के तहत कुछ रूटों पर यह सुवि‍धा शुरू की गई है। इस एप को गूगल प्‍ले स्‍कूल से डाउनलोड कि‍या जा सकता है। 


6 वॉलेट से कनेक्‍ट एप पर बुकिंग
आईआरसीटीसी ई वॉलेट के यूजर्स अब  रेल कनेक्‍ट एप से सामान्‍य और तत्‍काल टिकट बुक करा सकेंगे। ई वॉलेट से टि‍कट बुक कराने के लि‍ए आईडी बनानी होगी। रेल कनेक्‍ट एनड्राइए एप है जि‍से गूगल प्‍ले स्‍टोर से डाउनलोड कि‍या जा सकता है। 

 

7. बारह टि‍कट बुक कराएं
अब आप एक ही लॉग इन आईडी से एक महीने में 12 टि‍कट बुक करा सकते हैं। अभी तक आईआरसीटीसी से टि‍कट बुक कराने की सीमा 6 टि‍कट प्रति‍माह थी। हालांकि‍ नई सुवि‍धा का लाभ उठाने के लि‍ए आपको अपना यूजर आईडी अपने आधार कार्ड से सत्‍यापि‍त करना होना यानी लिंक कराना होगा। 


8 मनपसंद खाना मंगाएं
आप कि‍सी इलाके से गुजर रहे हैं और वहां की कोई फेमस चीज खाना चाहते हैं तो इसका इंतजाम भी रेलवे ने कर दि‍या है। आप रेलवे के FOOD on TRACK app के माध्‍यम से ऑर्डर कर सकते हैं। आईआरसीटीसी ने इसके लि‍ए ट्रैपिगो से करार कि‍या है। ट्रैपिगो को एक सर्वि‍स पार्टनर के तौर पर जोड़ा गया है, जि‍सका काम होगा भोजन को आपकी सीट तक पहुंचाना। उदाहरण के लि‍ए आप रत्‍नागि‍री से गुजर रहे हैं और वहां के हापुस आम खाने की इच्‍छा है तो आपकी सीट पर आम पहुंच जाएंगे। 

 

9 एप से कराएं कैंसिलेशन और टीडीआर
आईआरसीटीसी की वेबसाइट से कराए गए टि‍कट को कैंसि‍ल कराने व टीडीआर फाइल करने की सुवि‍धा रेल कनेक्‍ट एप पर भी उपलब्‍ध है। इसके लि‍ए आपको आईआरसीटीसी पर लॉग इन करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। 


10 जीरो चार्ज 
अगर आप आईआरसीटीसी की वेबसाइट से टि‍कट बुक कराते वक्‍त एसबीआई प्‍लैटि‍नम क्रेडि‍ट कार्ड से भुगतान करते हैं तो आपसे कि‍सी तरह का बैंक चार्ज नहीं लि‍या जाएगा। इसके लि‍ए आईआरसीटीसी ने बैंक के साथ करार कि‍या है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट