Home » Economy » InfrastructureHow to open gym in India

हेल्‍थ सेंटर के बि‍जनेस का पूरा गणि‍त, फि‍टनेस चैलेंज में मोदी भी हुए शामि‍ल

फि‍टनेस को लेकर बढ़ते क्रेज ने जि‍म के बि‍जनेस को बड़ा बूस्‍ट दे दि‍या है। जि‍म के बि‍जनेस के साथ तीन बातें खास हैं।

1 of

नई दि‍ल्‍ली। जब से वि‍राट कोहली ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चैलेंज कि‍या है तब से ट्वि‍टर पर 'हम फि‍ट तो इंडि‍या फि‍ट' बहुत तेजी से पॉपुलर हो रहा है। इसकी शुरुआत खेल मंत्री राज्‍यवर्धन सिंह राठौड़ ने की थी। फि‍टनेस को लेकर बढ़ते क्रेज     ने जि‍म के बि‍जनेस को बड़ा बूस्‍ट दे दि‍या है। 
जि‍म के बि‍जनेस के साथ तीन बातें खास हैं।

 

पहली बात तो ये ये कि‍ यह वन टाइम इनवेस्‍टमेंट है। दूसरी बात - इसमें मंदी नहीं आती और तीसरी बात ये है कि‍ इसे आप कम बजट में भी शुरू कर सकते हैं। यह बि‍जनेस बहुत छोटे स्‍केल से लेकर बहुत बड़े स्‍केल तक जा सकता है। लोग छोटे छोटे प्‍लॉट में भी जि‍म चला कर अच्‍छी इनकम कर रहे हैं। हम आपको इस बि‍जनेस के सभी पहलुओं की जानकारी दे रहे हैं।


सबसे पहले जगह की तलाश
सबसे पहले तो आपको इसके लि‍ए सही जगह ढूंढनी होगी। वैसे जरूरी नहीं कि‍ जगह कि‍सी बहुत चौड़ी सड़क पर ही हो। जि‍म गली मोहल्‍ले में भी खुल जाते हैं। अगर आपका बजट कम है तो आप 50 गज के प्‍लॉट में भी छोटा जि‍म खोल सकते हैं। नहीं तो एक ठीक ठाक जि‍म खोलने के लि‍ए आपको करीब 100 गज और अच्‍छा जि‍म खोलने के लि‍ए 500 गज जगह की जरूरत होगी।

 

बड़े जि‍म में आप लोगों को कार्डि‍यो और क्रॉस फि‍ट करने के लि‍ए ओपन स्‍पेस दे सकते हैं। 100 गज के  एक सामान्‍य जि‍म में भी आपको छोटी बड़ी 15 मशीनों की जरूरत होगी। हम इसी साइज के जि‍म की बि‍जनेस कैलकुलेशन करेंगे, जि‍समें कम से कम 15 मशीनों की जरूरत होगी। 

दि‍ल्‍ली में जि‍म टाउन के नाम से जि‍म चलाने वाले जगजीत सिंह सिंधू के मुताबि‍क, जि‍म के बि‍जनेस की कॉस्‍ट में वैरि‍एशन बहुत है और आपके पास ऑप्‍शन बहुत हैं। दि‍ल्‍ली जैसे शहरों के मुकाबले छोटे कस्‍बों में जि‍म लगाने की कॉस्‍ट 30 फीसदी तक कम आती है।  आगे पढ़ें 

100 गज के जि‍म का गणि‍त


मशीनें व इंटीरि‍यर - 15  लाख 
कि‍राया - 20 से 50 हजार प्रति‍माह 
बि‍जली बि‍ल - 5 से 10 हजार प्रति‍माह
कर्मचारी वेतन - 10 से 15 हजार प्रति‍माह
कोच की फीस - 20 से 35000 प्रति‍माह
छोटे खर्च - 2000 रुपए प्रति‍माह
.................................................
आमदनी 
प्रतिमाह फीस - 1500 से 2500
100 मेंबर फीस, 1500 प्रतिमाह की दर से - 1,50,000
अगर 50% भी लागत नि‍काल लें तो 75000 रुपए बचते हैं। आप इस कमाई को बढ़ा भी सकते हैं।  आगे पढ़ें 

 

ऐसे बढ़ाएं प्रॉफि‍ट
 - आप चाहे मशीनें बनाएं या खरीदें। इस बात का ध्‍यान रखें कि‍ मशीनों लेकर बेंच तक ऐसी हों, जि‍नका कई तरह से यूज कि‍या जा सके। उन्‍हें अलग अलग तरह से एडजस्‍ट कर कई एक्‍सरसाइज हो सकें। इससे आपके पैसे और जगह की बचत होगी।   
- वेंटि‍लेशन का खास ध्‍यान रखें। इससे आपका बि‍जली का बि‍ल कम आएगा।
- खुद जि‍म करें और उसकी समझ डेवलप करें। ऐसा करने से आप कोच पर डि‍पेंड नहीं रहेंगे और अपना काम खुद संभाल पाएंगे।
- अगर आप खुद जि‍म संभालेंगे तो लोग सपलीमेंट भी आपसे ही लेंगे। इसमें भी आपको कंपनि‍यों की ओर से अच्‍छा मार्जि‍न मि‍ल जाएगा।
- अगर आपने जि‍म को कि‍राये पर लि‍या है तो दोपहर के वक्त उसमें कोई और एक्‍टि‍वि‍टी करवाएं जैसे डांस वगैरा। 
कराना होगा रजि‍स्‍ट्रेशन
इसके लि‍ए आपको स्‍थानीय प्रशासन से लाइसेंस लेना होगा, आमतौर पर पुलि‍स यह जारी करती है। यह एक सेवा है इसलि‍ए आपको जीएसटी के तहत रजि‍स्‍ट्रेशन करना होगा। अगर आप सरकार से मदद लेना चाहते हैं तो आपको स्‍मॉल स्‍केल इंडस्‍ट्री यानी एसएसआई का रजि‍स्‍ट्रेशन करना होगा। जि‍म एक कमर्शि‍यल एक्‍टि‍विटी है इस बात का ध्‍यान आपको रखना होगा। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट