Advertisement
Home » Economy » InfrastructurePM Modi To Inaugurate ESIC Medical College In Faridabad On 12 February

800 करोड़ की लागत वाले 510 बेड के अस्पताल का प्रधानमंत्री मोदी ने किया लोकार्पण

इस अस्पताल परिसर में होंगी स्पोर्ट्स कांप्लेक्स, डॉक्टर्स क्वार्टर समेत कई सुविधाएं

1 of

नई दिल्ली. 

फरीदाबाद के सेक्टर-3 स्थित ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल का लोकार्पण आज कुरुक्षेत्र से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया।  ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल के निर्माण कार्य में 800 करोड़ रुपए की लागत आई है। इसमें पहले चरण कार्य लगभग पूरा हो चुका है। अधिकारियों के अनुसार अब दूसरे चरण के कार्य को आगे बढ़ाया जा रहा है।  इसमें अस्पताल परिसर में स्पोर्ट्स कांप्लेक्स, डॉक्टर्स क्वार्टर, पीजी कोर्स शुरू करने की व्यवस्था आदि की जानी है। 

 

510 बेड का है यह अस्पताल 

सेक्टर-3 ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल 510 बेड का है। यह दिल्ली एनसीआर का छठा ऐसा मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल है, जहां ऑपरेशन सेंटर, एमआरआई, सीटी स्कैन जैसी सारी सुविधाएं उपलब्ध हैं। अभी तक इस अस्पताल को सुपरस्पेशलिटी का दर्जा प्राप्त नहीं है। अधिकारियों की मानें तो बहुत जल्द अस्पताल को यह दर्जा  भी मिल जाएगा। 

 

 

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पीएम ने की बात 

प्रधानमंत्री वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में पढ़ रहे छात्रों, कर्मचारियों और अधिकारियों को संबोधित भी करेंगे। मेडिकल कॉलेज के अधिकारियों के अनुसार लोकार्पण को लेकर सारी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। सभी कर्मचारियों व अधिकारियों की छुट्टी रद्द कर दी गई हैं। पीएम के संबोधन को सुनने के लिए अस्पताल परिसर में कई जगह प्रोजेक्टर लगाए जाएंगे।

 

 

2009 में शुरू हुआ था निर्माण 

मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल का  निर्माण कार्य 2009 में शुरू हुआ था। साल 2012 तक लगभग 70 फीसदी कार्य पूरा हो गया था। इसके  बाद अस्पताल में डॉक्टरों व कर्मचारियों की  नियुक्ति शुरू हो गई थी। इसके बाद साल 2015 में इस मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में एमबीबीएस कोर्स के लिए छात्रों का दाखिला भी शुरू हो गया था। मौजूदा समय में अस्पताल का प्रथम चरण का कार्य पूरा हो चुका है और यहां अभी 400 छात्र एमबीबीएस का कोर्स कर रहे हैं। पहला बैच साल 2020 में पास आउट होकर निकलेगा। साल 2019 में ही मार्च के बाद 100 सीटों पर एमबीबीएस कोर्स के लिए दाखिला  शुरू होगा। कॉलेज एवं अस्पताल में 250 के आसपास डॉक्टर्स कार्यरत हैं। इनमें 150 डॉक्टर्स विशेषज्ञ के रूप में कार्यरत हैं। छह  मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल का फरीदाबाद, गुड़गांव, पलवल, मेवात, दिल्ली समेत साढ़े 6 लाख राज्य बीमित कर्मचारी लाभ उठा रहे हैं। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement