विज्ञापन
Home » Economy » InfrastructureMandovi bridge named 'Atal Setu' inaugurated in Goa

गोवा में हुआ 5.1 किमी लंबे 'अटल सेतु' का उद्घाटन, कम होगा ट्रैफिक, बढ़ेगी सुंदरता

नितिन गडकरी ने किया उद्घाटन, अस्वस्थ होने के बावजूद मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर भी हुए शरीक

1 of

नई दिल्ली.

केंद्रीय सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने रविवार को गाेवा की मांडवी नदी पर बने cable stayed bridge का उद्घाटन किया। 5.1 किमी लंबे चार लेन के इस ब्रिज को 'अटल सेतु' नाम दिया गेया है। इस ब्रिज के उद्घाटन के मौके पर गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर भी शामिल हुए। उनका कैंसर का इलाज चल रहा है, इसके बावजूद वे काफी जोश में नजर आए। इस ब्रिज के चालू होने से गोवा की राजधानी पंजिम में ट्रैफिक की समस्या से निजात मिलेगी। बेंगलुरु से मुंबई की तरफ जाने वाला ट्रैैफिक अब इस ब्रिज से होकर सीधा NH-17 में जा सकेगा।

रोजाना गुजरते हैं 66,000 वाहन

इस रूट से रोजाना 66,000 वाहन गुजरते हैं और यहां घंटों जाम लगा रहता है। ऐसे में इस ब्रिज के बनने से लोगों को इस जाम से मुक्ति मिलेगी। इतना ही नहीं यह ब्रिज राज्य में पर्यटन को बढ़ावा देने का भी काम करेगा। इस प्रोजेक्ट की अनुमानित लागत 500 करोड़ रुपए है। उद्घाटन के बाद इसे आम जनता के लिए खोल दिया गया।

 

 

ब्रिज की खासियत

इस ब्रिज को बनाने में मजबूत और उच्च गुणवत्ता वाली एक लाख मीट्रिक घन कंक्रीट से बनाया गया है। इसमें 13,000 मीट्रिक टन स्टील (20,000 कारों के वजन के बराबर) और 32,000 वर्ग मीटर के स्ट्रक्चरल स्टील प्लेट का इस्तेमाल हुआ है। इसका वजन 2.50 लाख टन है। यह वजन 570 Boeing-747 jumbo जेट्स के बराबर है। यह ब्रिज गोवा के पंजिम और पोवोरिम को जोड़ेगा।

 

 

2014 में प्रधानमंत्री ने रखी थी इस ब्रिज की नींव

गोवा की इस नदी पर बनने वाले तीन ब्रिज में से यह तीसरा ब्रिज है। इसका शिलान्यास 14 जून, 2014 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था। यह देश का तीसरा सबसे लंबा cable-stayed bridge है। इस ब्रिज की डिजायनिंग और निर्माण Larsen & Toubro (L&T) ने किया है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन