Home » Economy » Infrastructureगुवाहाटी, चेन्‍नई और लखनऊ एयरपोर्ट पर बनेंगे नए टर्मिनल- new terminals at Guwahati, Chennai and Lucknow airport

गुवाहाटी, चेन्‍नई और लखनऊ एयरपोर्ट पर बनेंगे नए टर्मिनल, 5000 करोड़ आएगी लागत

कैबिनेट ने गुवाहाटी, चेन्‍नई और लखनऊ एयरपोर्ट पर तीन नए टर्मिनल्‍स बनाने के लिए मंजूरी दे दी है।

1 of

नई दिल्‍ली. बुधवार को हुई केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल की मीटिंग में गुवाहाटी, चेन्‍नई और लखनऊ एयरपोर्ट पर तीन नए टर्मिनल्‍स बनाने को मंजूरी दे दी गई। ये टर्मिनल्‍स 5000 करोड़ रुपए से ज्‍यादा की लागत से बनाए जाएंगे। यह बात सिविल एविएशन मिनिस्‍टर सुरेश प्रभु ने कही है। 

 

प्रभु ने ट्विटर हैंडल पर कहा कि चेन्‍नई एयरपोर्ट पर बनने वाला नया टर्मिनल 2467 करोड़ रुपए की लागत से बनेगा। इसकी क्षमता सालाना 3.5 करोड़ पैसेंजर्स को हैंडल करने की होगी। आगे कहा कि चेन्‍नई एयरपोर्ट पर काफी लंबे अर्से से क्षमता को बढ़ाए जाने की जरूरत थी। नया टर्मिनल 2027 तक ग्रोथ रिक्‍वायरमेंट्स की देखरेख करेगा। 

 

बता दें कि सरकार पहले से चेन्‍नई में दूसरे एयरपोर्ट के लिए जमीन निर्धारित करने के लिए तमिलनाडु सरकार के साथ बातचीत कर रही है। इसके पीछे वजह वहां पर हवाई यात्रियों की संख्‍या में हो रहा इजाफा है। देश में इस वक्‍त एविएशन सेक्‍टर की ग्रोथ दर 20 फीसदी है, जो मार्च में 28 फीसदी पर पहुंच गई। मार्च में 1.16 करोड़ भारतीयों ने हवाई सफर किया। उन्‍होंने यह भी कहा कि नए टर्मिनल हमारी एक्‍ट ईस्‍ट पॉलिसी और नॉर्थ ईस्‍ट में टूरिज्‍म को बल देंगे। 

   
इतनी होगी लखनऊ और गुवाहाटी एयरपोर्ट के नए टर्मिनल की लागत 

प्रभु ने कहा कि लखनऊ एयरपोर्ट पर बनने वाला नया टर्मिनल 2030-31 तक की पैसेंजर ग्रोथ रिक्‍वायरमेंट्स को पूरा करेगा। इसकी क्षमता सालाना 1.36 करोड़ पैसेंजर्स का हैंडल करने की होगी और इसे बनाने पर 1232 करोड़ रुपए खर्च होंगे। वहीं गुवाहाटी एयरपोर्ट के नए टर्मिनल को 1383 करोड़ रुपए के इन्‍वेस्‍टमेंट से बनाया जाएगा। इसकी क्षमता सालाना 90 लाख पैसेंजर्स को हैंडल करने की होगी। 

 

हवाई सफर का अनुभव बेहतर बनाने के हो रहे प्रयास 

आगे कहा कि हम हवाई यात्रियों की संख्‍या में 20 फीसदी बढ़ोत्‍तरी दर को पूरा करने के लिए एयरपोर्ट की क्षमता और सुविधाओं को बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। लोगों के हवाई सफर के अनुभव को बेहतर बनाने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। 

 

2017 में 17.3 फीसदी बढ़ गए हवाई यात्री 

डायरेक्‍टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन के डाटा के मुताबिक, देश में डॉमेस्टिक एयर पैसेंजर ट्रैफिक 2017 में साल दर साल आधार पर 17.3 फीसदी बढ़कर 11.7 करोड़ पर पहुंच गया। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट