Advertisement
Home » Economy » InfrastructureCabinet approved 'Gaganyaan' mission, three astronauts will be send in space for 7 days

10 हजार करोड़ रुपए की लागत से अंतरिक्ष की सैर पर जाएंगे तीन भारतीय, वहां बिताएंगे सात दिन

देश के पहले मानव मिशन ‘गगनयान’ को कैबिनेट की मंजूरी

1 of

नई दिल्ली.

इस साल स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले से दिए अपने भाषण में घोषणा की थी कि 2022 तक भारत से अंतरिक्षयात्री को अंतरिक्ष भेजा जाएगा। इस ऐलान के चार महीने बाद मंत्रिमंडल ने 'गगनयान' प्रोग्राम को अपनी मंजूरी दे दी है। इस अभियान की लागत 10 हजार करोड़ रुपए संभावित है। अभियान के तहत 2022 से पहले तीन भारतीय अंतरिक्षयात्रियों को सात दिन के लिए पृथ्वी की निचली कक्षा में अंतरिक्ष भेजा जाएगा। यह भारत का पहला मानव मिशन होगा।

 

सबसे बड़े रॉकेट से होगा प्रक्षेपण

विधि एवं कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने शुक्रवार को संवाददाताओं को बताया कि वास्तविक मानव मिशन से पहले दो बार बिना मानव के मिशन को अंजाम दिया जाएगा, जिनमें प्रक्षेपण यान, मॉड्यूल तथा अन्य सभी उपकरणों सहित पूरी प्रक्रिया वास्तविक मिशन की तरह ही होगी। अंतरिक्ष यात्रियों को लेकर जाने वाले मॉड्यूल और अन्य सभी उपकरणों को अंतरिक्ष में वांछित कक्षा तक पहुंचाने के लिए जीएसएलवी एम के-3 प्रक्षेपण यान का इस्तेमाल किया जायेगा। यह भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) का सबसे बड़ा रॉकेट है। इसे आंध्र प्रदेश के श्री हरिकोटा से प्रक्षेपित किया जाएगा।

 

 

दिसंबर 2020 तक भेजा जाएगा पहला मिशन

उन्होंने बताया कि अंतरिक्ष यात्रियों के प्रशिक्षणफ्लाइट प्रणाली के विकास तथा जमीन पर बुनियादी ढांचा तैयार करने के लिए जरूरी अवसंरचनायें विकसित की जाएंगी। मिशन को सफल बनाने के लिए इसरो राष्ट्रीय एजेंसियोंप्रयोगशालाओंशिक्षण संस्थानों और उद्योगों के साथ साझेदारी करेगा। इसरो प्रमुख के सिवन ने नवंबर में कहा था कि गगनयान के तहत पहला मिशन दिसंबर 2020 में रवाना किए जाने की योजना पर काम चल रहा है। इसरो ने इस साल सितंबर में गगनयान क्रू मॉडल और स्पेस सूट का प्रदर्शन किया था।


 

 

बस एक भारतीय ने रखे हैं अंतरिक्ष में कदम

पूर्व भारतीय एयरफोर्स पायलट राकेश शर्मा अंतरिक्ष में जाने वाले पहले भारतीय हैं। वे सोवियत संघ के Soyuz T-11 अभियान में अंतरिक्ष गए थे। भारतीय मूल की दो महिलाएं-कल्पना चावला और सुनीता विलियम्स नासा की ओर से अंतरिक्ष यात्रा पर जा चुकी हैं।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement