विज्ञापन
Home » Economy » InfrastructureIndian Railway to deploy AI enabled robot USTAAD in trains to ensure safety

अब ट्रेन के अंदर 'उस्ताद' रखेंगे आपकी सुरक्षा का खयाल

ट्रेन के हर कोच की होगी रियल टाइम निगरानी

1 of

नई दिल्ली.

भारतीय रेलवे अपने यात्रियों की सुरक्षा और सहूलियत के लिए तेजी से कदम उठा रही है। हाल ही में रेवले ने सभी ट्रेनों में टीटीई को हैंड हेल्ड टर्मिनल यानी टैबलेटब् डिवाइस देने की बात कही थी, जिससे ट्रेन के अंदर सीटों का रियल टाइम ब्योरा दिया जा सके और लोगों को रिजर्वेशन कराने में आसानी हो। अब रेलवे AI रोबोट USTAAD (Under-gear Surveillance Through Artificial Intelligence Assisted Droid) को लेकर आया है जो ट्रेनों में सुरक्षा का ध्यान रखेगा। यह रोबोट ट्रेन के अंदर की रियल-टाइम जानकारी वाई-फाई के माध्यम से रेलवे अधिकारियों को भेजेगा। इस रोबोट को ऐसे तैरूार किया गया है कि यह रेलवे कोच और इंजन को मॉनीटर कर सके और कोई खामी आने की स्थिति में उनकी तस्वीरें खींचकर रेलवे इंजीनियरों को भेज सके।

 

होगी कोच के हर कोने की निगरानी

इस रोबोट को सेंट्रल रेलवे के नागपुर जोन में तैयार किया गया है। इसमें हाई-डेफिनेशन कैमरा लगाए गए हैं जो 360 डिग्री घूम सकेंगे, जिससे ट्रेन के हर कोने में निगरानी की जा सके। किसी अनिश्चितता की स्थिति में USTAAD के पास खामियों को जूम-इन करके देखने और उनका समाधान करने की भी क्षमता होगी, जो इंसानी नजर से चूक सकती हैं और जिनसे ट्रेन की सुरक्षा खतरे में आ सकती है।

 

परीक्षण के बाद हर ट्रेन को मिलेगा उस्ताद

सेंट्रल रेलवे के मुताबिक यह रोबोट किसी भी मुश्किल स्थिति में ट्रेन की तस्वीरें और वीडियो लेकर स्टेशन पर मौजूद इंजीनियरों को भेज सकेगा। इसका परीक्षण होते ही यह देश की सभी ट्रेनों में लगाया जा सकेगा।

 

 

Ask Disha से पूछकर कराएं टिकट

रेलवे ने अक्टूबर में 'Ask Disha- Digital Interaction to Seek Help Anytime’ नाम की सेवा लॉन्च की थीजिसके तहत IRCTC वेबसाइट पर आप ट्रेन का टिकट बुक करने से संबंधित हर तरह के सवाल का जवाब पा सकते हैं। यह आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस आधारित चैट बोट है जिसे किसी भी सरकारी वेबसाइट पर पहली बार शुरू किया गया है।

 

 

दुर्घटना से बचने के लिए रेलवे बनाएगा फेंस

नवंबर में रेलवे ने घोषणा की थी कि ट्रैक्स के दोनों तरफ सेफ्टी फेंस बनाई जाएगीजिससे लोग दुर्घटनाओं से बचे रहें। रेलवे के मुताबिक इस प्रोजेक्ट की लागत 25 अरब रुपए आएगी। यह फेंस 2.7 मीटर ऊंची होगी और कंक्रीट से बनी होगी।

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss