विज्ञापन
Home » Economy » Infrastructure15 lakh new jobs to come up for enumerator post for Economic Survey

निकलने जा रहे हैं 15 लाख रोजगार के अवसर, 12 करोड़ हाउसहोल्ड के आर्थिक सर्वे का काम

आर्थिक सर्वे का काम सीएससी के हवाले

1 of

राजीव कुमार

अप्रैल, 2019 में आर्थिक सर्वे शुरू होने जा रहा है। इसके तहत देश के 12 करोड़ हाउसहोल्ड्स का आर्थिक सर्वे किया जाएगा। इस काम के लिए 15 लाख नए लोगों की जरूरत होगी। आर्थिक सर्वे में किसी शिक्षक या सरकारी विभाग में काम करने वालों को शामिल नहीं किया जाएगा। 15 लाख नए इन्यूमरेटर भर्ती किए जाएंगे जिन्हें प्रतिदिन के हिसाब से पैसे दिए जाएंगे। जल्द ही इन्यूमरेटर की भर्ती का काम शुरू हो जाएगा। आर्थिक सर्वे का सारा काम आईटी एवं इलेक्ट्रॉनिक्स मंत्रालय के अधीन काम करने वाले कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) की देखरेख में होगा। मतलब ग्रामीण इलाके के युवाओं को इन्यूमरेटर के रूप में काम करने का मौका मिलेगा।

 

छह महीने में होगा सर्वे पूरा

सीएससी के सीईओ डी.सी. त्यागी ने मनी भास्कर को बताया कि आर्थिक सर्वे के काम की जिम्मेदारी सीएससी को दी गई है। इस संबंध में सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय के साथ समझौते किए गए हैं। उन्होंने बताया कि पहले आर्थिक सर्वे का काम करने में दो-दो साल लग जाते थे, लेकिन इस बार मात्र छह महीने में इस काम को पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। त्यागी ने बताया कि जल्द ही इस काम के लिए इन्यूमरेटर की भर्ती का काम शुरू हो जाएगा क्योंकि काम शुरू करने से पहले इन लोगों को ट्रेनिंग दी जाएगी। उन्होंने बताया कि अभी इस बात को लेकर अंतिम फैसला नहीं हो पाया है कि इन्यूमिरेटर का काम करने वालों की योग्यता 10वीं पास होगी या ग्रेजुएट। उन्होंने बताया कि सीएससी 10वीं पास युवाओं को भर्ती करने के पक्ष में है, लेकिन मंत्रालय की तरफ से बीए पास युवाओं को इस काम में लगाने की दिलचस्पी दिखाई जा रही है। जल्द ही इस मसले पर अंतिम फैसला हो जाएगा।

 

 

मिलेगा इंसेंटिव

त्यागी ने बताया कि इन्यूमरेटर का काम करने वाले युवाओं को मासिक सैलरी नहीं दी जाएगी। उन्हें इंसेंटिव दिए जाएंगे। मतलब उन्हें प्रति परिवार के हिसाब से इंसेंटिव दिए जाएंगे। मतलब यह हुआ कि जितना ज्यादा वह काम करेंगे, उनकी कमाई भी उतनी ही अधिक होगी। अभी यह तय नहीं को तय किया जाना है। इस काम के लिए दिलचस्पी रखने वाले ग्रामीण युवा विस्तृत जानकारी के लिए फरवरी माह में अपने पास के सीएससी से संपर्क कर सकते हैं।

 

 

पेपरलेस सर्वे पहली बार

त्यागी ने बताया कि पहली बार देश में पेपरलेस आर्थिक सर्वे होने जा रहा है। इस सर्वे के दौरान कागज का कोई इस्तेमाल नहीं होगा। इन्यूमरेटर फोन से सारा काम करेंगे। फोन में ही वे घरों के डाटा को फीड करेंगे और उसके आधार पर आर्थिक सर्वे का काम किया जाएगा। आर्थिक सर्वे के लिए ऐप बनाने की भी योजना है। इन्यूमरेटर को सीएससी की तरफ से स्मार्टफोन दिए जाएंगे। फोन में फीड ऐप मेन सर्वर से लिंक्ड होगा और 12 करोड़ परिवार के डाटा को फीड करने के बाद कोई अतिरिक्त काम नहीं करना होगा। त्यागी ने बताया कि अभी आर्थिक सर्वे शुरू करने की तारीख तय नहीं की गई है, लेकिन यह काम हर हाल इस साल अप्रैल में आरंभ हो जाएगा। इस साल अक्टूबर तक आर्थिक सर्वे का काम पूरा हो जाएगा। इस काम में विलेज लेवल इंट्रेप्रेन्योर की अहम भूमिका होगी। इन्यूमरेटर की भर्ती भी सीएससी के माध्यम से होगी।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन