बिज़नेस न्यूज़ » Economy » GSTGST में 28 % टैक्‍स स्‍लैब से हटेंगे कई प्रॉडक्‍ट, 12 और 18 % के स्‍लैब को मिलाने के संकेत

GST में 28 % टैक्‍स स्‍लैब से हटेंगे कई प्रॉडक्‍ट, 12 और 18 % के स्‍लैब को मिलाने के संकेत

GST में अधिकतम टैक्‍स रेट के ब्रैकेट में शामिल वस्‍तुओं की समीक्षा का काम सरकार कर रही है।

1 of

नई दिल्‍ली. सरकार गुड्स एंड सर्विस टैक्‍स (GST) अधिकतम टैक्‍स रेट के ब्रैकेट में शामिल वस्‍तुओं की समीक्षा करके कुछ को नीचे के टैक्‍स स्‍लैब में लाने की तैयारी कर रही है। फिलहाल इसकी समीक्षा चल रही है। वहीं अनुमान जताया जा रहा है कि आगे चलकर 12 और 18 फीसदी का टैक्‍स स्‍लैब मिलाया जा सकता है।

28 फीसदी के स्‍लैब में लग्‍जरी आइटम को रखना था

GST में 28 फीसदी के स्‍लैब में लग्‍जरी आइटमों को रखने की योजना थी। लेकिन इसमें 200 ऐसे आइटम आ गए हैं जो आम लोगों के इस्‍तेमाल करते हैं। अब इन पर GST में अधिकतम टैक्‍स लग रहा है। जल्‍द ही इसमें सुधार किया जाएगा और इन वस्‍तुओं को नीचे के टैक्‍स स्‍लैब में लाया जाएगा। यह जानकारी एक अधिकारी ने दी है।

 

शुक्रवार को होनी है GST काउंसिल की बैठक

आगामी शुक्रवार को (10 नवंबर) को GST काउंसिल की बैठक होनी है। इसमें काउंसिल फैसला ले सकती है। GST से जुड़े फैसले लेने वाली यह सबसे बड़ी संस्‍था है। इससे पहले फायनेंस सेकेट्री हसमुख अढिया ने कहा था कि काउंसिल इस संबंध में फैसला ले सकती है।

मिलाया जा सकता है 12 और 18 फीसदी का टैक्‍स स्‍लैब

शुरुआत में दो टैक्‍स स्‍लैब की योजना बनाई गई थी, लेकिन तब माना गया कि इससे महंगाई पर दबाव पड़ेगा, फिर 4 स्‍लैब बनाए गए। इस अध्‍ािकारी के अनुसार अब सोच बन रही है कि 12 और 18 फीसदी के स्‍लैब को मिला दिया जाए।

 

वित्‍तमंत्री ने भी दिए संकेत
वहीं वित्‍तमंत्री अरुण जेटली ने भ्‍ाी टैक्‍स दरों में कुछ राहत के संकेत दिए हैं। 1 जुलाई से लागू जीएसटी के तहत 1,200 से अधिक प्रोडक्ट और सर्विस को 5, 12, 18 और 28 फीसदी के टैक्स स्लैब में रखा गया है। जेटली के अनुसार कुछ प्रोडक्ट 28 फीसदी टैक्स स्लैब में नहीं होने चाहिए। जीएसटी काउंसिल की हुई पिछली बैठकों में करीब 100 प्रोडक्ट को 28 फीसदी टैक्स रेट से हटा दिया गया है। इन प्रोडक्ट को 18 और 12 फीसदी टैक्स केटेगरी में रखा गया है।
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट