Home » Economy » GSTLuxury hotel booking for Newyear & Xmas is 50 percent less

GST ने फीका किया ट्रैवल इंडस्‍ट्री का न्यू ईयर सेलिब्रेशन, लग्जरी होटल-रिजॉर्ट की बुकिंग 40% कम

न्यू ईयर नजदीक है, बावजूद इसके इस बार होटल, रिजॉर्ट और ट्रैवल इंडस्ट्री स्लोडाउन के दौर से गुजर रहा है।

1 of

नई दिल्ली. गुड्स एंड सर्विसेज टैक्‍स (जीएसटी) के टैक्स रेट और प्रॉसेस को लेकर कन्फ्यूजन का असर टूर एंड ट्रैवल इंडस्‍ट्री की बुकिंग पर नजर आ रहा है। इंडस्ट्री के मुताबिक, क्रिसमस और न्यू ईयर नजदीक होने के बाजवूद इस साल अभी तक होटलों की 50 फीसदी ही एडवांस बुकिंग हो पाई है। लग्‍जरी होटल्‍स की बुकिंग भी 50 फीसदी तक कम हुई है।

 

लग्‍जरी होटल पर GST की तगड़ी मार

 

इंडियन एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर (आईएटीओ) के प्रेसिडेंट प्रणब सरकार ने moneybhaskar.com को बताया कि इस साल न्यू ईयर और नए साल के लिए 40 से 50 फीसदी लग्जरी होटल खाली पड़े हैं। हालांकि, बजट होटल की बुकिंग लग्जरी की तुलना में बेहतर है। जीएसटी काउंसिल ने होटल को 5 से 28 फीसदी की कैटेगरी में रखा है। रेस्त्रां को 5 फीसदी टैक्स स्लैब की कैटेगरी में रखा है लेकिन 7,500 रुपए से अधिक के रूम रेंट वाले होटल के रेस्त्रां में खाने पर कस्टमर को 18 फीसदी टैक्स चुकाना होगा। सरकार ने कहा कि लग्जरी होटल पर ज्यादा टैक्स रेट का असर पड़ा है।

 

घटी विदेशी टूरिस्टों की बुकिंग

 

ट्रैवल कंपनी एसटीआई के चेयरमैन सुभाष गोयल ने कहा कि इंडियन टूरिज्म इंडस्ट्री जीएसटी के नए रेट के कारण पड़ोसी देशों की तुलना में कॉम्पिटिटिव नहीं रहा है। विदेशी टूरिस्ट ज्यादातर फाइव स्टार होटलों में ठहरते हैं। सरकार ने फाइव स्टार होटल पर 28 फीसदी में रखा है। इसका नेगेटिव असर क्रिसमस और न्यू ईयर की बुकिंग पर पड़ा है।

 

पूरे टूरिज्म सेक्टर पर है असर

 

प्रणब सरकार ने बताया कि ज्यादा जीएसटी टैक्स रेट का असर टूरिज्म सेक्टर पर पड़ रहा है। इंडियन टैक्स स्ट्रक्चर पड़ोसी देशों के मुकाबले कॉम्पिटिटिव नहीं रहा है। क्रिसमस, न्यू ईयर की बल्क कॉरपोरेट बुकिंग इंडिया की जगह म्‍यांमार, थाईलैंड, सिंगापुर, इंडोनेशिया, मलेशिया जैसे पड़ोसी देशों को मिल रही है जहां टैक्स 5 से 10 फीसदी की रेंज में है। देश का जटिल टैक्स स्ट्रक्चर और ज्यादा जीएसटी रेट टूरिज्म सेक्टर को नुकसान पहुंचा रहा है क्योंकि कंपनियों की बुकिंग कम हो चुकी है।

 

आगे पढ़ें - बजट होटल की बुकिंग में सुधार

 

 

बजट होटल की बुकिंग में सुधार

 

डोमेस्टिक टूर ऑपरेटर की एसोसिएशन के अध्यक्ष सुभाष वर्मा ने moneybhaskar.com को बताया कि कुछ टूरिस्ट डेस्टिनेशन पर बजट होटल की बुकिंग 60 से 70 फीसदी हुई है। वर्मा ने कहा कि अभी तक ट्रैवलर क्रिसमस और नए साल के लिए एडवांस में बुकिंग कराते हैं लेकिन इस साल एडवांस बुकिंग काफी कम रही है। उनके मुताबिक, ट्रैवल कंपनियां और कस्टमर दोनों ही जीएसटी टैक्स रेट, नॉर्म्स और लॉजिस्टिक के प्रॉसेस होने का ही इंतजार कर रहे हैं जिसका असर एडवांस बुकिंग पर पड़ा है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट