Home » Economy » GSTGST rate cut, new gst tax slab, gst rate on shopping

आज से घट गए हैं GST रेट, खरीददारी से पहले चेक कर लें लि‍स्‍ट, 0 से 28% टैक्‍स वाले प्रोडक्‍ट्स

अब GST में सबसे ज्‍यादा टैक्‍स की दर 28 फीसदी है और अब इसमें केवल 35 वस्‍तुएं ही रह गई हैं

1 of

नई दि‍ल्‍ली। गुड्स एंड सर्वि‍स टैक्‍स (GST) के नए टैक्‍स रेट 27 जुलाई 2018 यानी आज से लागू हो गए हैं। बीते शनि‍वार को GST काउंसिल की बैठक में कई और वस्‍तुओं को इस हायर टैक्‍स स्‍लैब से कम टैक्‍स स्‍लैब में लाने का फैसला लि‍या गया था। इतना ही नहीं, सरकार ने जीएसटी के तहत कई प्रोडक्ट्स पर जीरो फीसदी (0%) जीएसटी तय किया है। GST में सबसे ज्‍यादा टैक्‍स की दर 28 फीसदी है और अब इसमें केवल 35 वस्‍तुएं ही रह गई हैं। पिछले साल 1 जुलाई को जब GST लागू किया गया था उस वक्‍त 28 फीसदी टैक्‍स स्‍लैब में 226 वस्‍तुएं थीं। ऐसे में आप GST टैक्‍स की नई लि‍स्‍ट को ध्‍यान में रखते हुए खरीददारी करें।  

 

28 फीसदी टैक्‍स स्‍लैब में कौन-कौन से प्रोडक्‍ट

 

इस टैक्‍स स्‍लैब में अब AC सहित डिजिटल कैमरा, वीडियो रिकार्डिंग, डिशवाशिंग मशीन और ऑटोमोबाइल्‍स रह गए हैं। इसके अलावा, इस लिस्‍ट में सीमेंट, ऑटोमोबाइल्‍स पार्ट्स, टायर, यॉट, एयरक्रॉफ्ट, अरेटिड ड्रिंक, तबंकू सहित अन्‍य ऐसे उत्‍पाद, पान मसाला जैसे उत्‍पाद इस लिस्‍ट में रखे गए हैं। अब 28 फीसदी टैक्‍स स्‍लैब में केवल 35 आइटम बचे हैं, बाकी जो उत्‍पाद इस लिस्‍ट से हटाए गए हैं उन पर 27 जुलाई से घटी हुई टैक्‍स दर लागू होगी।

 

और छोटी हो सकती है 28 फीसदी की लिस्‍ट

 

जीएसटी के तहत 28 फीसदी टैक्‍स स्‍लैब की लिस्‍ट और छोटी की जा सकती है। जानकारों का कहना है‍ कि एक बार सरकार की रेवेन्‍यू में स्थिरता आने के बाद ऐसे कदम उठाए जा सकते हैं। यह बात वित्‍तमंत्री अरुण जेटली भी कह चुके हैं। हालांकि, लग्‍जरी उत्‍पाद और तबांकू जैसे उत्‍पाद पर टैक्‍स घटने की उम्‍मीद नहीं है। डेलोइट इंडिया के पार्टनर एमएस मनी के अनुसार हाल ही जिन वस्‍तुओं पर टैक्‍स घटाया है, इसके बाद जैसे ही रेवेन्‍यू स्‍टेबेलाइज होगा, काउंसिल 28 फीसदी की लिस्‍ट को और छोटा कर सकती है।

 

इन वस्‍तुओं को निकाला गया है 28 फीसदी के स्‍लैब से

 

जीएसटी काउंसिल की पि‍छली बैठक में 28 से 18 फीसदी के टैक्‍स स्‍लैब में जिन 15 वस्‍तुओं को लाया गया है उनमें वैक्‍यूम क्‍लीनर, वाशिंग मशीन, 27 इंच के टीवी, फ्रिज, लाउंड्री मशीन, पेंट्स और वार्निश जैसे उत्‍पाद शामिल हैं।

 

आगे पढ़ें...

 

दूध, दही, अंडा, पनीर पर जीएसटी 0%

 

CBEC  के अनुसार, रोजमर्रा के इस्‍तेमाल की कई चीजों को जीएसटी के दायरे से बाहर रखा गया है। जो चीजें जीएसटी के दायरे से बाहर हैं, उनमें बटर मिल्क, सब्जियां, फल, ब्रेड, अनपैक्‍ड फूडग्रेन्‍स, गुड़, दूध, अंडा, दही, लस्‍सी, अनपैक्‍ड पनीर, अनब्रांडेड आटा, अनब्रांडेड मैदा, अनब्रांडेड बेसन, प्रसाद, काजल, फूलभरी झाड़ू और नमक शामिल हैं। इसके अलावा फ्रेश मीट, फिश, चिकन पर भी जीएसटी नहीं है।

 

बच्चों के काम की चीजें और न्यूज पेपर

 

बच्‍चों के ड्राइंग और कलरिंग बुक्‍स और एजुकेशन सर्विसेज पर भी जीएसटी नहीं है। इसके अलावा मिट्टी की मूर्तियों, न्यूज पेपर, खादी स्टोर से खादी के कपड़ें खरीदने पर कोई टेक्स नहीं है।  

 

हेल्‍थ सर्विसेज

 

सरकार ने हेल्‍थ सर्विसेज को भी जीरो फीसदी जीएसटी के दायरे में रखा है।

 

ये प्रोडक्ट्स भी 0% फीसदी दायरे में

 

सरकार ने 21 जुलाई को सैनेटरी नैपकिन, स्टोन, मार्बल, राखी, साल के पत्ते, लकड़ी से बनी मूर्तियां और हैंडीक्राफ्ट आइटम्स पर भी जीरो फीसदी जीएसटी कर दिया है।

 

आगे पढ़ें- 5% जीएसटी स्लैब में

 

चीनी, चाय पर 5% जीएसटी

 

चीनी, चाय, रोस्‍टेड कॉफी बीन्‍स, खाद्य तेल, स्किम्‍ड मिल्‍क पाउडर, बच्‍चों के मिल्‍क फूड, पैक्‍ड पनीर, पीडीएस केरोसिन, फ्रोजेन सब्जियों, घरेलू LPG, फैब्रिक फूटवीयर (500 रुपए तक), अपैरल (1000 रुपए तक), काजू, अगरबत्‍ती, धूप बत्ती, कोयला, कोर मैट्स, मैटिंग और फ्लोर कवरिंग को 5 फीसदी जीएसटी स्‍लैब के दायरे में रखा गया है। ट्रांसपोर्ट सर्विस पर भी 5 फीसदी जीएसटी है। 
 
इन आइटम्स पर भी 5% जीएसटी

 

टेलरिंग सर्विस, मेहंदी पेस्ट, कॉफी, आइट एंड स्नो, बॉयो गैस, इंसुलिन, पतंग, वालनट्स, साड़ी का फाल, कुछ तरह के फैब्रिक्स, पोस्टेज स्टैंप, फाइबर प्रोडक्ट्स, ब्रांडेड नमकीन, आयुर्वेदिक दवाएं, यूनानी दवाएं, होम्योपैथिक दवाएं, प्लास्टिक वेस्ट, रबर वेस्ट, चटाई,  इडली और डासेा के बैटर, फिशिंग नेट, एयरक्रॉफ्ट टायर और फ्लाई ऐश पर 5 फीसदी जीएसटी है।

 

आगे पढ़ें 

 

मक्‍खन, घी पर 12% जीएसटी

 

जीएसटी काउंसिल ने बटर, घी, बादाम, फ्रुट जूस, पैक्‍ड नारियल पानी, फल, अचार, मुरब्‍बा, जैम जैरी, छाता और मोबाइल को 12 फीसदी जीएसटी टैक्‍स स्‍लैब में रखा गया है।

 

इन प्रोडक्ट्स पर भी 12% जीएसटी

 

हैंडीक्रॉफ्ट आयटम्‍स, हैंडबैग, बांस की फ्लोरिंग, ज्‍वैलरी बॉक्‍स, लकड़ी के बॉक्‍स (पेंटिंग के लिए), शीशे से बनी कलाकृतियां, स्‍टोन एंडेवर,  अर्नामेंट के फ्रेम वाले शीशे, हाथ से बने लैंप पर भी 12 फीसदी जीएसटी है।

 

इन प्रोडक्ट्स पर भी 12% जीएसटी

 

1000 रुपए से ज्यादा कीमत वाले अपैरल, फ्रोजेन मीट प्रोडक्ट, बटर, चीज, घी, पैकेज्ड ड्राई फ्रूट्स, एनिमल फैट, फ्रूट जूस, टूथ पावडर, छाता, सेलफासेन, केचप, डायग्नोस्टिक किट और प्लेइंग कार्ड पर भी 12 फीसदी जीएसटी है।

 

आगे पढ़ें...

 

इन प्रोडक्ट्स पर 18% जीएसटी

 

सीबीईसी के अनुसार, हेयर ऑयल, टूथपेस्‍ट, साबुन, पास्‍ता, कॉर्न फ्लेक्‍स , आइसक्रीम, कम्‍प्‍यूटर, प्रिंटर आदि पर 18 फीसदी जीएसटी रेट लगेगा।
 
ये प्रोडक्ट भी 

 

वॉशिंग मशीन, फ्रिज, टीवी (सिर्फ 27 इंच तक), वीडियो गेम, वैक्‍यूम क्‍लीनर, ट्रेलर, जूस मिक्‍सर, ग्राइंडर, शावर एंड हेयर ड्रायर, वाटर कूलर, लीथियन आयन बैट्री, इले‍क्‍ट्रॉनिक आयरन (प्रेस), सेंट, टॉयलेट स्‍प्रे, वॉल पुट्टी, वॉर्निश, विशेष वाहन जैसे एंबुलेंस, वर्क ट्रक

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट