बिज़नेस न्यूज़ » Economy » GSTनए साल में 5-7 फीसदी सस्ते हो सकते हैं टूर पैकेज, सरकार दे सकती है बड़ी राहत

नए साल में 5-7 फीसदी सस्ते हो सकते हैं टूर पैकेज, सरकार दे सकती है बड़ी राहत

GST के बाद महंगे हो टूर पैकेज नए साल में सस्ते हो सकते है।

1 of

नई दिल्ली। GST के बाद महंगे हो टूर पैकेज नए साल में सस्ते हो सकते है। सरकार जीएसटी काउंसिल की जनवरी में होने वाली मीटिंग में टूर ऑपरेटर्स को इन्पुट क्रेडिट का फायदा दे सकती है। ऑपरेटर्स के अनुसार सरकार से जिस तरह से आश्वासन मिला है, उसे देखते हुए उन्हें जीएसटी से पहले मिलने वाले फायदे मिलने लगेंगे। अगर ऐसा होता है, तो टूर पैकेज 5-7 फीसदी तक सस्ते हो सकते हैं।

 

 

टूर ऑपरेटर को मिलेगा इन्पुट क्रेडिट

 

इस मुद्दे पर जानकारी रखने वाले टूर ऑपरेटर हेड ने moneybhaskar.com को बताया कि जीएसटी काउंसिल की नवंबर में हुई मीटिंग में टूर ऑपरेटर को इन्पुट क्रेडिट मिले इस पर डिस्कशन हुआ था और काउंसिल के लोगों ने भरोसा दिलाया था कि अगली मीटिंग में इसे पास कर दिया जाएगा। हालांकि, अभी यह तय नहीं हो पाया था कि टूर ऑपरेटरों को कितना फीसदी इन्पुट क्रेडिट मिलेगा। उन्होंने बताया कि पिछली बार इन्पुट क्रेडिट रेट को लेकर डिस्कशन हुआ था।

 

सस्ते हो सकते हैं टूर पैकेज

 

टूर ऑपरेटर के मुताबिक सरकार अगर इन्पुट क्रेडिट देती है वह टूर पैकेज का प्राइस कम कर सकती है। जीएसटी काउंसिल की अगली मीटिंग जनवरी में होनी है। टूर ऑपरेटर सुभाष वर्मा ने कहा कि इन्पुट क्रेडिट नहीं मिलने से कुछ टूर ऑपरेटर ने प्राइस 5 से 7 फीसदी बढ़ाया था लेकिन अगर सरकार इन्पुट क्रेडिट देती है, तो ऑपरेटर टूर पैकेज पर प्राइस कम कर सकते हैं।

 

आगे पढ़ें - क्या कर सकती है सरकार

 

 

काउंसिल दो ऑप्शन पर कर रही है विचार

 

अधिकारी ने बताया कि काउंसिल ने दो ऑप्शन पर विचार किया था। पहला 12 फीसदी टैक्स के साथ इन्पुट क्रेडिट दे सकती है। दूसरा पांच फीसदी इन्पुट क्रेडिट दे सकती है। अभी टूर ऑपरेटर पर 5 फीसदी जीएसटी लगता है लेकिन उस पर इन्पुट क्रेडिट नहीं मिलता। अभी टूर ऑपरेटर 18 से 23 फीसदी टैक्स टूर पर चुकाते हैं जिस पर उन्हें इन्पुट क्रेडिट नहीं मिलता। टूर ऑपरेटर होटल, लोकल साइटसीन के लिए टैक्स चुकाते हैं। टूर पैकेज की फाइनल कॉस्ट पर फिर 5 फीसदी जीएसटी चुकाते हैं। यानी कस्टमर टूर पैकेज पर करीब 23 से 28 फीसदी तक टैक्स चुकाते हैं।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट