विज्ञापन
Home » Economy » GSTUnder construction flats may see a GST rate cut

मोदी सरकार 10 जनवरी को दे सकती है बड़ी सौगात, सस्ते हो सकते हैं घर

अंडर-कंस्ट्रक्शन फ्लैट्स पर GST घटाने का हो सकता है ऐलान

Under construction flats may see a GST rate cut
जीएसटी काउंसिल में स्माल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज (SME) को छूट की सीमा बढ़ाए जाने के प्रस्ताव पर भी विचार हो सकता है। 22 दिसंबर, 2018 को हुई काउंसिल की पिछली बैठक में 23 गुड्स और सर्विसेज के लिए टैक्स की दर में कटौती की गई थी।
 

 

नई दिल्ली. जीएसटी (GST) के तहत जल्द ही घर खरीदने का प्लान बना रहे लोगों को बड़ी सौगात मिल सकती है। 10 जनवरी को होने वाली GST काउंसिल की मीटिंग में अंडर कंस्ट्रक्शन फ्लैट्स पर जीएसटी घटाकर 5 फीसदी किए जाने पर चर्चा होगी। इसके साथ ही स्माल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज (SME) को छूट की सीमा बढ़ाए जाने का भी प्रस्ताव है। 22 दिसंबर, 2018 को हुई काउंसिल की पिछली बैठक में 23 गुड्स और सर्विसेज के लिए टैक्स की दर में कटौती की गई थी।

 

10 जनवरी को होनी है जीएसटी काउंसिल की मीटिंग

एक अधिकारी ने कहा, ‘अगली मीटिंग 10 जनवरी को होनी है।’ वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता वाली जीएसटी काउंसिल की 32वीं बैठक होगी, जिसकी अध्यक्षता वित्त मंत्री अरुण जेटली करेंगे। हाल की मीटिंग के संबंध में रिपोर्टर्स से बातचीत करते हुए जेटली ने कहा था कि अगली मीटिंग में रेजीडेंशियल प्रॉपर्टीज पर टैक्स रेट को दुरुस्त करने और एमएसएमई की थ्रेसहोल्ड लिमिट को मौजूदा 20 लाख रुपए से बढ़ाने पर विचार किया जाएगा।

 

इन प्रस्तावों पर भी होगा विचार

इसके अलावा लॉटरी पर जीएसटी रेट के साथ ही आपदा सेस पर विचार करने के अलावा काउंसिल छोटे सप्लायर्स के लिए एक कम्पोजिशन स्कीम पर विचार करेगी। अधिकारी ने कहा कि जीएसटी काउंसिल में अंडर कंस्ट्रक्शन फ्लैट्स और घरों पर जीएसटी घटाकर 5 फीसदी किए जाने विचार हो सकता है।

 

फिलहाल 12 फीसदी लगता है जीएसटी

फिलहाल अंडर कंस्ट्रक्शन प्रॉपर्टी या रेडी टू मूव इन फ्लैट्स  जिनके लिए बिक्री के समय कम्प्लीशन सर्टिफिकेट जारी नहीं किया गया है, पर 12 फीसदी गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (GST) लगता है। हालांकि ऐसी रियल एस्टेट प्रॉपर्टीज पर जीएसटी नहीं वसूला जाता है, जिनके लिए बिक्री के समय कम्प्लीशन सर्टिफिकेट जारी नहीं किया गया है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन