Home » Economy » GSTGST november tax collection is behind target

नवंबर में 97,637 करोड़ रहा GST कलेक्शन, 1 अप्रैल को आएगा सरल रिटर्न फॉर्म

सहज और सरल रिटर्न फॉर्म जीएसटीआर-3बी और जीएसटीआर-1 की जगह लेंगे।

GST november tax collection is behind target

नई दिल्ली। सरकार टैक्स फाइलिंग और रिटर्न फॉर्म को आसान बनाने के लिए लगातार काम कर रही है। रेवेन्यू सेक्रेटरी के अनुसार जीएसटी रिटर्न का सरल रिटर्न फॉर्म 1 अप्रैल 2019 को आ जाएगा। सहज और सरल रिटर्न फॉर्म जीएसटीआर-3बी और जीएसटीआर-1 की जगह लेंगे। वहीं जीएसटी का नवंबर महीने का टैक्स कलेक्शन 97,637 करोड़ रहा। अपने टारगेट से पीछे रहने के बावजूद सरकार को उम्मीद है कि वह जीएसटी टैक्स कलेक्शन के टारगेट को प्राप्त कर लेगी।

 

अप्रैल को आएंगे रिटर्न के आसान फॉर्म

 

रेवेन्यू सेक्रेटरी अजय भूषण ने बताया कि 1 अप्रैल 2019 को जीएसटी के आसान रिटर्न फाइलिंग फॉर्म आ जाएंगे। डायरेक्ट ऑफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस (डीआरआई) के फाउंडेशन डे पर भूषण ने कहा कि रिफंड फाइलिंग प्रोसेस को और बेहतर किया जाएगा। ताकि, यह पूरे तरीके से ऑनलाइन और टैक्सपेयर फ्रेंडली बन सके। जुलाई में सेंट्रल बोर्ड ऑफ इनडायरेक्ट टैक्स और कस्टम (सीबीआईसी) ने जीएसटी रिटर्न फॉर्म सहज और सुगम पर कारोबारियों की राय जानने के लिए पब्लिक डोमेन में लेकर आया था। ये फॉर्म जीएसटीआर-3बी और जीएसटीआर-1 की जगह लेंगे।

 

सरकार को उम्मीद पा लेगी GST कलेक्शन का टारगेट

 

अप्रैल से नवंबर तक के मौजूदा फाइनेंशियल ईयर में 7.76 लाख करोड़ रुपए का जीएसटी कलेक्शन हुआ है। 2018-19 के सालाना बजट में 13.48 लाख करोड़ रुपए के जीएसटी टैक्स कलेक्शन का टारगेट रखा है। यानी, 1.12 लाख करोड़ रुपए का मासिक टारगेट रखा गया। नवंबर महीने में जीएसटी टैक्स कलेक्शन 97,637 करोड़ रुपए हुआ है।

 

डिपार्टमेंट रख रहा है टैक्स चोरी करने वालो पर नजर

 

भूषण ने कहा कि इस महीने वह अपने टारगेट से करीब 4,000 करोड़ रुपए कम रह गए। उन्होंने कहा कि जीएसटी कलेक्शन का मासिक टारगेट एक लाख करोड़ रुपए रखा गया है। वह यह टारगेट आने वाले महीनों में बढ़ाकर 1.10 लाख करोड़ रुपए करने वाले हैं। भूषण पांडेय ने भरोसा जताया है कि फाइनेंशियल ईयर के आखिर तक वह अपना टारगेट प्राप्त कर लेंगे। रेवेन्यू डिपार्टमेंट के पास टैक्स चोरी करने वाली संस्थाओं के बारे में भी जानकारी मिल रही है। जीएसटी काउंसिल की अगली मीटिंग फाइनेंस मिनिस्टर के साथ इसी महीने होनी है।

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट