विज्ञापन
Home » Economy » Foreign TradePm Modi comment to increase china tension

पीएम मोदी ने दक्षिण कोरिया से चला ऐसा दांव, बढ़ा दी चीन की चिंता

मसूद अजहर को लेकर भारत में चीनी सामान के प्रतिबंध के खिलाफ माहौल बना हुआ है।

1 of

नई दिल्ली. पीएम मोदी ने दक्षिण कोरिया से चीन पर कूटनीतिक दांव चला है। पीएम मोदी कोरिया के दौरे पर है, जहां उन्होंने कोरियाई कंपनियों की दिल खोलकर तारीख की और उन्हें भारत के विकास का भागीदार बताया। पीएम मोदी इन कंपनियों का नाम लेकर कहा कि Hyundai, सैमसंग और एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स समेत 600 से अधिक कोरियाई कंपनियों ने भारत में निवेश किया है। पीएम मोदी कहा कि हम निवेश के लिए और भी अधिक संख्या में कोरियाई कंपनियों का स्वागत करते हैं। 

 

कोरियाई कंपनी की तारीफ से बढ़ सकती है चीन की चिंता 

पीएम ने कहा कि कारोबारी दौरों को आसान बनाने के लिए पिछले साल अक्टूबर से हमने कोरियाई लोगों को आगमन पर वीजा की सुविधा दी है। पीएम मोदी का यह बयान ऐसे वक्त में आया है, जब देश में पुलवामा हमले के बाद चीन कंपनियों और उनके प्रोडक्ट को लेकर अलग माहौल बन गया है। मसूद अजहर के मुद्दे पर लोग चीन के रवैय्ये से नाराज हैं। इस वजह से चीनी सामान के बहिष्कार करने का ऐलान किया है। ऐसे वक्त में पीएम का चीन की प्रतिद्वदी कोरियाई कंपनी की तारीफ करके चीनी कंपनियों चिंता बढ़ा सकती है। दरअसल चीनी टेक कंपनियों को कोरियाई कंपनी सैमसंग, एजी अन्य का प्रतिद्वदी माना जाता है। ऐेेसे में पीएम मोदी का कोरियाई कंपनी की तारीफ करना चीन की चिंता बढ़ा सकता है। 

 

 

पिछले साल दोनों देशों के बीच 21.5 अरब डॉलर का हुआ व्यापार

पीएम मोदी ने कहा कि भारत जल्द ही 5 हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बन जाएगा। 

भारत, कोरिया के 10 सबसे प्रमुख व्यापार साझेदार देशों में से एक है। कोरियाई सामानों के निर्यात के मामले में भारत का स्थान छठा है। वर्ष 2018 में दोनों देशों के बीच 21.5 अरब डॉलर का व्यापार हुआ। पीएम ने कहा कि व्यापक आर्थिक भागीदारी समझौते के उन्नयन के लिए बातचीत को तेज किया गया है ताकि 2030 तक द्विपक्षीय व्यापार को 50 अरब डॉलर तक पहुंचाया जा सके। ना केवल व्यापार, निवेश के मामले में भी सकारात्मक बदलाव आया है। कोरिया का भारत में कुल निवेश छह अरब डॉलर तक पहुंच गया है। 

 

 

पीएम मोदी ने सैमसंग की फैक्ट्री का किया था उद्धाटन

पीएम मोदी ने पिछले साल कोरियाई राष्ट्रपति मून जे-इन के साथ नोएडा के सेक्टर-81 में सैमसंग कंपनी की नई इकाई के उद्घाटन किया था। इसके लिए सैमसंग ने 4,915 करोड़ रुपए का निवेश करने का ऐलान किया था। नई फैक्ट्री अब दोगुना उत्पादन के लिए तैयार है। भारत में कंपनी इस समय 6.7 करोड़ स्मार्टफोन बना रही है और नये संयंत्र के चालू हो जाने पर तकरीबन 12 करोड़ मोबाइल फोन का विनिर्माण होने की संभावना है। नई फैक्ट्री में न सिर्फ मोबाइल बल्कि सैमसंग के कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक सामान जैसे रेफ्रिजरेटर और फ्लैट पैनल वाले टेलीविजन का उत्पादन भी दोगुना हो जाएगा और कंपनी इन सारे सेगमेंट में अग्रणी की भूमिका में बनी रहेगी। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन