विज्ञापन
Home » Economy » Foreign TradeIndian businessmen denied trade with Pakistan after Pulwama terror attack

पुलवामा हमले के बाद कारोबारियों ने खाई कसम, पाकिस्तान के साथ जीवनभर नहीं करेंगे कारोबार

पाकिस्तान का MFN दर्जा छीने जाने पर जताई खुशी

1 of

मनोज कुमार

 

नई दिल्ली। पुलवामा हमले के बाद भारत के कारोबारी पाकिस्तान के साथ सदा के लिए अपना कारोबार खत्म कर देना चाहते हैं। इन कारोबारियों ने मनी भास्कर को बताया कि निहत्थे सीआरपीएफ के जवानों पर इस प्रकार के पाकिस्तान के समर्थन से होने वाले हमले के बाद वे हमेशा के लिए पाकिस्तान के साथ अपने कारोबारी रिश्ते को खत्म करना चाहते हैं। 

 

केंद्र सरकार ने छीना MFN का दर्जा
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने भी शुक्रवार सुबह पाकिस्तान को भारत की तरफ से दिए गए मोस्ट फेवर्ड नेशन (MFN) का दर्जा छीन लिया। उरी में आतंकी हमले के बाद भी पाकिस्तान को दिए गए MFN का दर्जा छीन लेने की चर्चा की गई थी, लेकिन बाद में उसे ठंडे बस्ते में डाल दिया गया था। MFN का दर्जा मिलने पर उस देश से होने वाले कारोबार पर लगने वाले टैरिफ में कोई भेदभाव नहीं किया जा सकता है। कारोबारियों ने बताया कि पाकिस्तान की नापाक मंशा का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि पाकिस्तान ने आज तक भारत को MFN का दर्जा नहीं दिया। अलबत्ता इस पर पाकिस्तान सरकार की तरफ से विचार जरूर किया गया।

 

दिल्ली से होता है टमाटर का निर्यात
देश की सबसे बड़ी मंडी आजादपुर मंडी के टमाटर कारोबारी अनिल कुमार मल्होत्रा ने बताया कि अब तो किसी भी हाल में इस मंडी से पाकिस्तान के लिए कोई माल कभी भी रवाना नहीं होगा। उन्होंने बताया कि आजादपुर मंडी से पाकिस्तान के लिए टमाटर का निर्यात किया जाता रहा है। लेकिन पुलवामा में गुरुवार को हुए हमले के बाद यह हमेशा के लिए बंद हो जाएगा। उन्होंने बताया कि कारोबारियों के लिए देश से बड़ा कारोबार नहीं है।

पंजाब के कारोबारियों ने भी कहीं आयात बंद करने की बात


कारोबारियों ने बताया कि पहले भी कई बार आतंकी हमलों के बाद कुछ दिनों के लिए कारोबार बंद हो जाते हैं, लेकिन कुछ समय बाद कारोबार फिर से शुरू हो जाता है, लेकिन इस बार ऐसा कदापि नहीं होगा। हालांकि, टमाटर का निर्यात पिछले कई महीनों से बंद है। भारत के पंजाब में पाकिस्तान से सटे कई शहरों से सीमेंट का आयात किया जाता है, लेकिन वहां के कारोबारी भी अब हर हाल में इसे बंद करने जा रहे हैं।  
 

भारत-पाकिस्तान के बीच 2 अरब डॉलर से ज्यादा का कारोबार


पाकिस्तान और भारत के बीच 2 अरब डॉलर से अधिक का कारोबार होता है। इनमें भारत की हिस्सेदारी अधिक है। विश्व बैंक की एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत और पाकिस्तान के बीच 35 अरब डॉलर से अधिक के कारोबार की संभावना है। निर्यातकों ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि भारत और पाकिस्तान के बीच सीधे तौर पर 2 अरब डॉलर का कारोबार होता है, लेकिन दुबई और अन्य देशों के माध्यम से यह कारोबार काफी अधिक है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss