Home » Economy » Foreign Tradewe are preparing a detailed plan what will be going in that manufacturing says Prabhu

अगले 8-9 साल में 5 लाख करोड़ डॉलर की इकोनॉमी होगा भारत: सुरेश प्रभु

सुरेश प्रभु ने कहा कि भारत अगले 8 से 9 साल में 5 लाख करोड़ डॉलर की अर्थव्‍यवस्‍था बन सकता है।

1 of

नई दिल्‍ली. कॉमर्स एंड इंडस्‍ट्रीज मिनिस्‍टर सुरेश प्रभु ने कहा कि भारत अगले 8 से 9 साल में 5 लाख करोड़ डॉलर की अर्थव्‍यवस्‍था बन सकता है। इसमें मैन्‍युफैक्‍चरिंग सेक्‍टर की हिस्‍सेदारी 20 फीसदी होगी। इंटरनेट फर्म्‍स बॉडी आईएएमएआई के एक इवेंट में प्रभु ने कहा कि मैन्‍युफैक्‍चरिंग को बढ़ावा देने के उपाय किए जाएंगे। मैन्‍युफैक्‍चरिंग सेक्‍टर के एक्‍सपर्ट्स इसके लिए रोडमैप बना रहे हैं। 

 

प्रभु ने बुधवार को यहां एक प्रोग्राम में कहा कि भारत अगले 8-9 साल में 5 लाख करोड़ डॉलर की इकोनॉमी बनने जा रहा है। इसमें मैन्‍युफैक्‍चरिंग का योगदान करीब 1 लाख करोड़ डॉलर होगा। इसलिए हम डिटेल प्‍लान बना रहे हैं जिससे कि मैन्‍युफैक्‍चरिंग में तेजी आ सके। उन्‍होंने कहा कि यदि मैन्‍युफैक्‍चरिंग डिजिटाइज हो गया तो इससे टेक्‍नोलॉजी कंपनियों के बड़े पैमाने पर असर बनेंगे। 

 

सर्विस सेक्‍टर की 60 फीसदी होगी हिस्‍सेदारी 

सुरेश प्रभु ने कहा कि 5 लाख करोड़ डॉलर की भारतीय इकोनॉमी में 60 फीसदी हिस्‍सेदारी सर्विसेज की होगी। इनमें से कुछ वे सर्विसेज भी शामिल हैं, जिनका अभी कोई अस्तित्‍व नहीं है। जैसेकि, होम केयर सर्विसेज में काफी ज्‍यादा संभावनाएं हैं। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट