बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Foreign Tradeचाबहार पोर्ट का उद्घाटन, पाक को किनारे कर अफगानिस्‍तान से हो सकेगा सीधा कारोबार

चाबहार पोर्ट का उद्घाटन, पाक को किनारे कर अफगानिस्‍तान से हो सकेगा सीधा कारोबार

ईरान के राष्‍ट्रपति हसन रूहानी ने चाबहार पोर्ट के पहले चरण का रविवार को उद्घाटन किया।

1 of

 

नई दिल्‍ली. ईरान के राष्‍ट्रपति हसन रूहानी ने चाबहार पोर्ट के पहले चरण का रविवार को उद्घाटन किया। इस पोर्ट के आधिकारिक रूप से खुल जाने से भारत पाकिस्‍तान को बाईपास करके ईरान के रास्‍ते अफगानिस्‍तान को सामान पहुंचा सकेगा। हालांकि भारत ने कुछ समय पहले ही इस पोर्ट के माध्‍यम से अफगानिस्‍तान को गेंहू भेजा था।

 

गेटवे टू गोल्‍डन अपर्च्‍युनिटी

यह पोर्ट ऑयल रिच ईरान के दक्षिण कोस्‍टल एरिया में स्थित है। भारत के पश्चिमी कोस्‍टल एरिया से यहां की सीधी पहुंच स्‍थापित हो गई है। इसीलिए इसे गोटवे टू गोल्‍डर अपर्च्‍युनिटी कहा जा रहा है। भारत इस पोर्ट के रास्‍ते सेंट्रल एशिया स्थित देशों से सीधे कारोबार कर सकेगा।

 

पहले चरण का काम हुआ पूरा

चाबहार में दो पोर्ट है। पहले चरण में शाहिद बेहेशी पोर्ट का काम पूरा हुआ है जिसका आज ईरान के राष्‍ट्रपति हसन रूहानी ने उद्घाटन किया। इस दौरान क्षेत्र के कई देशों के प्रतिनिधि मौजूद थे। इस कार्यक्रम में भारत का प्रतिनिधित्‍व शिपिंग मंत्रालय में मंत्री पॉन राधाकृष्‍णनन ने किया। उद्घाटन के दौरान ईरान के राष्‍ट्रपति ने कहा कि यह रूप जल्‍द ही जमीनी, समुद्र के साथ साथ हवाई मार्ग से भी जुड़ जाएगा।

 

तीनों देशों के बीच बढ़ेगा कारोबार

पोर्ट के चालू हो जाने से भारत के साथ ईरान और अफगानिस्‍तान का व्‍यापार तेजी से बढ़ने की उम्‍मीद है। पाकिस्‍तान ने भारत को अफगानिस्‍तान से ट्रेड करने के लिए जमीनी रास्‍ता नहीं मुहैया कराया था जिससे दोनों देशों के कारोबारियों को दिक्‍कतों का सामना करना पड़ रहा था। इसके चलते भारत लगातार ऐसा रास्‍ता खोजने की कोशिश कर रहा था, जिससे दोनाें देशों के बीच सीधा कारोबार सुगमता के साथ हो सके और इसमें पाकिस्‍तान भी बीच में न आए।

 

भारत ने किया बड़ा निवेश

भारत ने ईरान से पिछले साल मई में इस काम के लिए एक समझौता किया था। इसके तहत भारत ने पहले चरण के विकास में करीब 85.21 मिलियन डालर का निवेश किया है। इसके अलावा भारत फीस के रूप में ईरान को दस साल में 22.95 मिलियन डालर देगा।

 

अचानक पहुंची थी सुषमा ईरान

अपने रूस के दौरे से लौटते वक्‍त भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज अचानक ईरान गईं थी, जहां उन्‍होंने वहां के विदेश मंत्री से मुलाकात की थी। इस दौरान चाबहार के अलावा अन्‍य मुद्दों पर दोनों नेताओं के बीच बात हुई थी।


 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट