विज्ञापन
Home » Economy » BankingRBI ready to remove ATM charges and forms review pane

पहल / अब ATM चार्ज खत्म करने की तैयारी में RBI, रिव्यू के लिए बनाया पैनल

एनईएफटी (NEFT) और आरटीजीएस (RTGS) पर लगने वाले चार्ज खत्म कर चुका है आरबीआई

RBI ready to remove ATM charges and forms review pane
  • आरबीआई ने ऑटोमेटेड टेलर मशींस (ATM) के इस्तेमाल पर लगने वाले चार्जेस और फीस की समीक्षा के लिए एक कमिटी का गठन किया है
     

नई दिल्ली. रिजर्व बैंक (RBI) ने एनईएफटी (NEFT) और आरटीजीएस (RTGS) पर लगने वाले चार्ज खत्म करने के बाद अब बैंकिंग कस्टमर्स को बड़ी राहत देने की दिशा में कदम बढ़ा दिए हैं। आरबीआई (RBI) ने मंगलवार को ऑटोमेटेड टेलर मशींस (ATM) के इस्तेमाल पर लगने वाले चार्जेस और फीस की समीक्षा के लिए एक कमिटी का गठन किया है।

दो महीने के भीतर जमा करनी होगी रिपोर्ट

आरबीआई की वेबसाइट पर जारी एक बयान के मुताबिक, यह कमेटी पहली मीटिंग के दो महीने के भीतर अपनी रिपोर्ट जमा करेगी। इसी महीने हुई बाई-मंथली मॉनिट्री पॉलिसी में केंद्रीय बैंक ने कहा था कि एटीएम (ATM) इंटरचेंज फी स्ट्रक्चर की समीक्षा के लिए एक कमेटी का गठन किया जाएगा। इसका उद्देश्य एटीएम सुविधा से वंचित क्षेत्रों में एटीएम फैसिलिटी को बढ़ावा देना था।

आईबीए के सीईओ होंगे अध्यक्ष

आरबीआई ने डेवलपमेंटल और रेग्युलेटरी पॉलिसीज पर जारी बयान में कहा कि इंडियन बैंक्स एसोसिएशन (IBA) के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर की अध्यक्षता में बना पैनल एटीएम चार्जेस और फीस की समीक्षा करेगा।

कमेटी में ये लोग हों शामिल

इस कमेटी में आईबीए के चीफ एग्जीक्यूटिव वी जी कन्नन के अलावा नेशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन के सीईओ दिलीप अस्बे, एसबीआई के सीजीएम गिरि कुमार नायर, एडीएफसी बैंक के ग्रुप हेड (लायबिलिटी प्रोडक्ट्स) एस सम्पत कुमार, कन्फेडरेशन ऑफ एटीएम इंडस्ट्री के डायरेक्टर के श्रीनिवास और टाटा कम्युनिकेशंस पेमेंट सॉल्युशंस के सीईओ संजीव पटेल शामिल हैं।
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss