• Home
  • PMC bank is unlikely to fail, all your money is safe

चिंता /पीएमसी बैंक के फेल होने की संभावना नहीं, सुरक्षित है आपका पूरा पैसा

  • पैसा डूबने की स्थिति में कोर्ट जा सकते हैं ग्राहक

Moneybhaskar.com

Sep 25,2019 01:02:00 PM IST

नई दिल्ली. बैंकिंग क्षेत्र के विशेषज्ञों का कहना है कि पीएमसी बैंक फेल नहीं होने जा रहा और इसमें ग्राहकों का जमा पैसा नहीं डूबने जा रहा है। पीएमसी बैंक पर भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने सोमवार को छह महीने के लिए विभिन्न प्रकार की बंदिशें लगा दी। इसके तहत बैंक के ग्राहक अगले छह महीने तक एक दिन में अपने खाते से अधिकतम 1,000 रुपए की ही निकासी कर सकते हैं। इस फैसले की खबर आने के बाद देशभर में बैंक की 137 शाखाओं पर ग्राहकों का हुजूम उमड़ पड़ा। लोगों में अपने पैसे के डूब जाने का डर पैदा हो गया है। ऑल इंडिया बैंक ऑफीशर्स एसोसिएशन के चेयरमैन एसएस सिसोदिया ने कहा कि बैंक के ग्राहकों का पैसा पूरी तरह से सुरक्षित है। बैंक के फेल होने की आशंका नहीं है। एक लाख रुपए की गारंटी के सवाल पर उन्होंने कहा कि सरकारी बैंक में जमा रकम पर लोगों का 100 फीसदी विश्वास है। अपने पैसे के लिए ग्राहक कोर्ट भी जा सकते हैं।

चेक काटने का तरीका आजमा सकते हैं ग्राहक

रोजाना आधार पर अधिकतम 1,000 रुपए की निकासी सीमा से ग्राहकों को होने वाली परेशानी के मुद्दे पर सिसोदिया ने कहा कि ग्राहक चेक काटने का तरीका भी अपना सकते हैं। यह समस्या कुछ दिनों के लिए ही होगी। बैंक पर रोक सिर्फ छह महीने के लिए लगाई गई है।

बैंक के कारोबार में अचानक बढ़ोतरी

दिल्ली प्रदेश बैंक वर्कर्स ऑर्गनाइजेशन के महासचिव अश्वनी राणा ने कहा कि गत एक साल में बैंक के सदस्यों की संख्या में कमी आई है, लेकिन उसके बिजनेस मिक्स में अचानक बढ़ोतरी दर्ज की गई है। इसलिए बैंक के कामकाज को लेकर संदेह पैदा हुआ है। बैंक के वेबसाइट पर उपलब्ध सालाना रिपोर्ट के मुताबिक बैंक का बिजनेस मिक्स 31 मार्च 2019 को 15.17 फीसदी बढ़कर 20,000.67 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। यह आंकड़ा बैंक ने महज 35 साल में हासिल कर लिया। एक साल पहले 31 मार्च 2018 को यह आंकड़ा 17,366.93 करोड़ रुपए था। इस दौरान बैंक के सदस्यों की संख्या 66,045 से घटकर 51,601 रह गई है।

पीएमसी बैंक की 137 शाखाओं के बाहर ग्राहकों की भीड़

पीएमसी बैंक जमा पैसा के डूबने के डर से बैंक की 137 शाखाओं के बाहर पैसा निकालने के लिए ग्राहकों की लंबी कतार देखी जा रही है। ग्राहकों में यह डर पैदा हो गया है कि बैंक में जमा उसका पैसा डूब सकता है।

आरबीआई ने बैंक पर छह महीने तक के लिए लगाया है प्रतिबंध

आरबीआई ने वित्तीय अनियमितताओं के चलते पीएमसी बैंक के कामकाज पर अगले छह महीने तक के लिए कई तरह के प्रतिबंध लगाए हैं। आरबीआई ने सोमवार को जारी आदेश में कहा है कि पीएमसी बैंक के बैंकिंग कामकाज में पारदर्शिता की कमी और कई मामलों में बैंकिंग दिशा-निर्देशों का पालन नहीं करने पर ये प्रतिबंध लगाए गए हैं। हालांकि केंद्रीय बैंक ने यह स्पष्ट किया है कि पीएमसी के कामकाज पर पाबंदियाँ लगाई गई हैं और इसका मतलब यह नहीं हैं कि बैंक का लाइसेंस रद्द कर दिया गया है। आरबीआई ने कहा है कि पीएमसी अगले नोटिस अथवा दिशा-निर्देश तक पाबंदियों के साथ कारोबार कर सकता है।

ग्राहक एक दिन में 1,000 रुपए से अधिक नहीं निकाल सकेंगे

आरबीआई के आदेश के बाद ग्राहक अगले छह माह तक एक दिन में खाते से 1000 रुपये से अधिक नहीं निकाल सकेंगे। केंद्रीय बैंक की अग्रिम मंजूरी के बिना पीएमसी में कोई सावधि जमा खाता नहीं खुल सकेगा। बैंक नए ऋण भी जारी नहीं करेगा। बैंक कोई नया निवेश भी नहीं कर पाएगा। बैंक के अपनी संपत्ति बेचने और हस्तांतरित करने पर रोक लगा दी गई है।

11,617.34 करोड़ की जमा पर बैंक ने 8,383.33 करोड़ का दिया है कर्ज

पीएमसी की कुल 137 शाखाएं हैं। इनमें से सबसे अधिक 103 महाराष्ट्र और 15 कर्नाटक में हैं। गोवा और दिल्ली में छह-छह शाखाएं हैं। गत वित्त वर्ष की समाप्ति के समय बैंक के पास 11,617.34 करोड़ रुपए की जमा थी और बैंक ने 8,383.33 करोड़ रुपए का कर्ज दिया हुआ था। केंद्रीय बैंक ने कहा है कि फिलहाल प्रतिबंध छह माह के लिए लगाया गया है और इसके बाद समीक्षा कर आगे का निर्णय किया जाएगा।

X

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.