Home »Economy »Banking» SBI Offers Corporate Salary Accounts Without Requirement To Maintain Minimum Balance

SBI के इन अकाउंट्स में बैलेंस नहीं होने पर भी पेनल्टी से छूट, मिलेंगे ये फायदे

नई दिल्‍ली. भारतीय स्‍टेट बैंक (एसबीआई) ने 1 अप्रैल से बैंक अकाउंट में मिनिमम बैलेंस न रखने वालों से पेनल्‍टी वसूलना शुरू कर दिया है। मिनिमम बैलेंस नहीं रखने की सीमा शहरी और ग्रामीण क्षेत्र के हिसाब से तय की गई है। इसके बावजूद एसबीआई में कुछ ऐसे अकाउंट्स हैं, जिनमें मंथली मिनिमम बैलेंस मेन्‍टेन रखने की कोई बाध्‍यता नहीं है। यानी, ऐसे अकाउंट्स में यदि मिनिमम बैलेंस नहीं भी रहता है तो बैंक आपसे पेनल्‍टी नहीं वसूलेगा।
 
स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया ने स्‍मॉल सेविंग्‍स बैंक अकाउंट्स, बेसिक सेविंग बैंक अकाउंट्स और जनधन अकाउंट के कस्‍टमर्स को एवरेज मंथली बैलेंस मेन्‍टेन रखने से छूट दी है। एसबीआई ने 5 एसोसिएट बैंकों और महिला बैंक के मर्जर के बाद एक नई ब्रांड आइडेंटिटी अपनाते हुए हाल ही में यह ट्वीट किया था। इससे पहले एसबीआई ने एक अप्रैल से मिनिमम बैलेंस की लिमिट बढ़ाने फैसला किया था। इसका असर पेंशनर्स और स्‍टूडेंट्स समेत करीब 31 करोड़ डिपॉजिटर्स पर होगा।
 
एसबीआई ने तय किया है कि 1 अप्रैल से महानगरों में बैंक अकाउंट रखने वालों को 5000 रुपए मिनिमम बैलेंस रखना होगा। शहरी क्षेत्रों में यह सीमा 3 हजार रुपए, सेमी अरबन क्षेत्र में 2 हजार रुपए और गांव की शाखाओं में बैंक खाता रखने वालों को 1 हजार रुपए मिनिमम बैलेंस रखना होगा। बैंक की वेबसाइट के अनुसार, मिनिमम बैलेंस मेन्‍टेन नहीं रखने पर रूरल ब्रांचेज में 20 रुपए और मेट्रो शहरों में 100 रुपए के बीच पेनल्टी लगाई जाएगी।
 
 
अगली स्‍लाइड में- SBIके अकाउंट्स जिन पर मिनिमम बैलेंस मेन्‍टेन करने से छूट
 
 

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY