Home »Economy »Banking» CBI Filed FIR Against An Official Of BoM For Allegedly Allowing Deposits Of Demonetised Currency

नोटबंदी के दौरान 28 करोड़ का घपला करने वाले बैंक मैनेजर पर FIR, गुजरात का है मामला

नई दिल्‍ली. सीबीआई ने बैंक ऑफ महाराष्‍ट्र के अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। इन पर नोटबंदी के दौरान 28 करोड़ रुपए का घपला करने का आरोप है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने गतवर्ष 8 नवम्‍बर को नोटबंदी को लागू किया गया था। सरकार ने 500 औश्र 1000 के नोट को बंद कर दिया था और इनकी जगह पर नए नोट जारी किए गए थे। बंद कर दिए गए नोटों को बाद में बैंक से बदलने में कई जगह घपलों की बात सामने आई थी।
 
गुजरात में पकड़ में आया था घपला
 
बैंक ऑफ महाराष्‍ट्र की गुजरात के अहमदाबाद जिले की स्थित अम्‍बावाडी शाखा में यह गड़बड़ी पकड़ में आई थी। कुल मिला कर 28.87 करोड़ रुपए की गड़बड़ी सामने आई थी। यह पैसा नए खोले गए बेनामी बैंक खातों में जमा कराया गया था। इस खातों को खोलने में नियमों की अनदेखी की गई थी।
 
ब्‍लैक मनी को किया गया इधर से उधर
 
सीबीआई के प्रवक्‍ता आर के गौर ने बताया कि पहले इन बेनामी खातों में पैसा जमा कराया गया। इसके बाद आरटीजीएस के माध्‍यम से इन पैसों को दूसरे खातों में भेजा गया। इनमें एक भी बैंक खाते में केवाईसी की औपचारिका पूरी नहीं की गई। सीबीआई ने इस मामले की एफआईआर दर्ज कर ली है और जांच शुरू कर दी गई है। इस मामले में बैंक मैनेजर भारत पोपट को नामजद किया गया है।
 

और देखने के लिए नीचे की स्लाइड क्लिक करें

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY