विज्ञापन
Home » Economy » BankingWhat is Repo rate and how can impact on Home loan

SBI करेगा ब्याज दरों में और कमी, चेयरमैन ने दिलाया भरोसा 

Home loan पर 0.5% ब्याज कम कर चुका है SBI 

What is Repo rate and how can impact on Home loan

Home Laon Interest Rate : भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के चेयरमैन रजनीश कुमार ने बृहस्पतिवार को कहा कि बैंक ने पहले ही ब्याज दर में कमी कर दी है, लेकिन मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंडिंग में कमी आती है तो ब्याज दर और कम की जा सकती है। 

रिजर्व बैंक (RBI) ने पिछले सप्ताह रेपो रेट में 0.25 फीसदी की कमी की थी, लेकिन देश के सबसे बडे़ बैंक एसबीआई ने केवल 30 लाख रुपए तक के होम लोन (Home Loan) पर 0.5 फीसदी की ही कमी की है। 


नई दिल्ली. भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के चेयरमैन रजनीश कुमार ने बृहस्पतिवार को कहा कि बैंक ने पहले ही ब्याज दर में कमी कर दी है, लेकिन मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंडिंग में कमी आती है तो ब्याज दर और कम की जा सकती है। 

 

रिजर्व बैंक (RBI) ने पिछले सप्ताह रेपो रेट में 0.25 फीसदी की कमी की थी, लेकिन देश के सबसे बडे़ बैंक एसबीआई ने केवल 30 लाख रुपए तक के होम लोन (Home Loan) पर 0.5 फीसदी की ही कमी की है। 

 

फंडिंग की मार्जिनल कॉस्ट कम हुई तो मिलेगा फायदा 
क्रेडाई के कार्यक्रम में शामिल होने आए रजनीश कुमार ने पत्रकारों से कहा, हम पहले अपने रेट्स कम कर चुके हैं, लेकिन यदि फंडिंग की मार्जिनल कॉस्ट कम होती है तो हम इसका फायदा अपने ग्राहकों तक पहुंचा सकते हैं। 

 

बॉन्ड मार्केट पर हो फोकस 
भारत में अभी भी बैंक महत्वपूर्ण रोल निभा रहे हैं। बॉन्ड मार्केट (Bond Market) अब तक विकसित नहीं हो पाया है और जब बॉन्ड मार्केट पूरी तरह विकसित नहीं हो जाता, तब तक कैपिटल के लिए बैंकों पर निर्भरता बनी रहेगी, इसलिए हमें बॉन्ड मार्केट को विकसित करने पर फोकस करना चाहिए। 

 

अल्टरनेटिव मैकेनिज्म की जरूरत 
उन्होंने बताया कि जब तक कोई अल्टरनेटिव मैकेनिज्म विकसित नहीं होता है, तब तक प्रोजेक्ट्स की फंडिंग के लिए बैंकों पर निर्भरता जारी रहेगी और आने वाले कुछ सालों तक यह सिलसिला जारी रहेगा। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss