बिज़नेस न्यूज़ » Economy » BankingPNB मामला : 30 करोड़ और इम्पोर्टेड घड़ियों से भरे 60 कंटेनर जब्‍त

PNB मामला : 30 करोड़ और इम्पोर्टेड घड़ियों से भरे 60 कंटेनर जब्‍त

ईडी ने नीरव मोदी की कंपनी के 30 करोड़ रुपये बैलेंस वाले बैंक अकाउंट और 13.86 करोड़ के शेयर फ्रीज कर दि‍ए हैं।

1 of
नई दि‍ल्‍ली. ईडी ने पीएनबी मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए नीरव मोदी की कंपनी के 30 करोड़ रुपये बैलेंस वाले बैंक अकाउंट और 13.86 करोड़ के शेयर फ्रीज कर दिए है। जांच के दौरान ईडी ने 176 स्टील अलमारी और 60 प्लास्टिक के कंटेनर भी जब्त किए, जो कि‍  इम्पोर्टेड घड़ियों से भरे हुए थे। 

 
वित्त मंत्रालय ने हांगकांग के बैंकों से जांच को कहा
 
वित्त मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, मंत्रालय ने हांगकांग के उन 4 बैंकों को लेटर लि‍खकर इस मामले में हुई अनि‍यमि‍तताओं की जांच करने के लि‍ए कहा है, जिन्‍हें पीएनबी से एलओयू मिला था।  
 
250 करोड़ से ज्‍‍‍‍‍‍यादा के लोन पर नजर रखने को कहा 
 
वित्त मंत्रालय के सूत्रों का कहना है सभी बैंकों से उन एलओयू की जांच फि‍र से करने के लि‍ए कहा है जि‍नमें अनि‍यमि‍तता हो। इसके अलावा पीएसयू बैंकों से 250 करोड़ रुपये से ज्‍यादा के लोन लेने वालों पर निगरानी के लिए विशेष प्रतिनिधि या एजेंसी की नियुक्ति करने के लि‍ए भी कहा गया है। इसके अलावा वित्त मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि‍ कंसोर्टियम में 7 बैंकों से अधिक नहीं हो सकते हैं।  
 
क्‍या है मामला 
 
- इस पूरे फ्रॉड को लेटर ऑफ अंडरटेकिंग (एलओयू) के जरिए अंजाम दिया गया। यह एक तरह की गारंटी होती है, जिसके आधार पर दूसरे बैंक अकाउंटहोल्डर को पैसा मुहैया करा देते हैं। अब यदि अकाउंटहोल्डर डिफॉल्ट कर जाता है तो एलओयू मुहैया कराने वाले बैंक की यह जिम्मेदारी होती है कि वह संबंधित बैंक का बकाया चुकाए।
 
- पीएनबी के कुछ अफसरों ने नीरव मोदी को गलत तरीके से लेटर ऑफ अंडरटेकिंग (एलओयू) दी। इसी एलओयू के आधार पर मोदी और उनके सहयोगियों ने दूसरे बैंकों से विदेश में कर्ज ले लिया। पीएनबी ने भले ही दूसरे लेंडर्स के नाम का जिक्र नहीं किया, लेकिन समझा जाता है कि पीएनबी से जारी एलओयू के आधार पर यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, इलाहाबाद बैंक और एक्सिस बैंक ने भी क्रेडिट ऑफर कर दिया था।
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट