बिज़नेस न्यूज़ » Economy » BankingRBI ने पेमेंट बैंकों के लि‍ए सख्‍त कि‍ए नि‍यम, इंडि‍पेंटेंड तरीके से करनी होगी KYC

RBI ने पेमेंट बैंकों के लि‍ए सख्‍त कि‍ए नि‍यम, इंडि‍पेंटेंड तरीके से करनी होगी KYC

रिजर्व बैंक ऑफ इंडि‍या (आरबीआई) ने पेमेंट बैंकों के KYC नि‍यमों को सख्‍त कर दि‍या है।

Payment Banks Need To Do Independent KYC for Customers - RBI ने पेमेंट बैंकों के लि‍ए सख्‍त कि‍ए नि‍यम

नई दि‍ल्‍ली। रिजर्व बैंक ऑफ इंडि‍या (आरबीआई) ने पेमेंट बैंकों के KYC नि‍यमों को सख्‍त कर दि‍या है। जि‍न टेलि‍कॉम कंपनि‍यों के पास पेमेंट बैंक लाइसेंस है उन्‍हें इंडि‍पेंटेंड तरीके से अपने कस्‍टमर बेस की KYC  औपचारि‍कताओं को पूरा करना होगा। ऐसा इसलि‍ए क्‍योंकि‍ टेलि‍कॉम यूजर बेस के लि‍ए कि‍या गया KYC आरबीआई की गाइडलाइंस के तहत वैध नहीं है। 

 

आरबीआई की ओर से पेमेंट बैंकों के लि‍ए सर्कुलेट कि‍ए गए एक इंटरनल नोट में कहा गया है कि‍ टेलि‍कॉम कंपनि‍यां 'रेग्‍युलेटेड कंपनि‍यां' नहीं है, इसलि‍ए KYC को अनुमति‍ नहीं दी जा सकती और इन बैंकों को बैंक अकाउंट खोलने के लि‍ए अपने कस्‍टमर्स की दोबारा से KYC करनी होगी जोकि‍ एंटी मनी लॉन्‍डरिंग (PML) लॉ के अधीन है। 

 

आरबीआई ने और क्‍या कहा

 

आरबीआई ने नोट में कहा कि‍ रेग्‍युलेटेड कंपनि‍यां कस्‍टमर्स की पहचान करने के लि‍ए थर्ड पार्टी का वि‍कल्‍प भी चुन सकते हैं। थर्ड पार्टी रेग्‍युलेटेड, सुपरवाइज्‍ड और मॉनिटर्ड होनी चाहि‍ए। ऐसे में टेलि‍कॉम कंपनि‍यां जोकि‍ आरबीआई द्वारा रेग्‍युलेटेड नहीं है और PML एक्‍ट में नहीं आती है, इसलि‍ए पेमेंट बैंकों की ओर से कि‍ए गए KYC पर भरोसा नहीं कि‍या जा सकता है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट