बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Banking1.50 लाख से ज्‍यादा बैंक कर्मचारियों पर लटकी ट्रांसफर की तलवार, लिस्‍ट हो रही फाइनल

1.50 लाख से ज्‍यादा बैंक कर्मचारियों पर लटकी ट्रांसफर की तलवार, लिस्‍ट हो रही फाइनल

पीएनबी में हुए फ्रॉड के बाद देश के 15-20 फीसदी पीएसयू बैंक कर्मचारियों के ऊपर ट्रांसफर की तलवार लटक गई है।

1 of
नई दिल्ली. पीएनबी में हुए फ्रॉड के बाद  देश के 15-20 फीसदी पीएसयू बैंक कर्मचारियों के ऊपर ट्रांसफर की तलवार लटक गई है। अगले एक से दो दिन में सभी बैंक अपने कर्मचारियों के ट्रांसफर की फाइनल लिस्ट तैयार कर देंगे। पंजाब नेशनल बैंक ने इसकी शुरूआत भी कर दी है। अकेले पीएनबी ने 18 हजार कर्मचारियों का ट्रांसफर एक झटके में कर दिया है। जो कि बैंक के कुल कर्मचारियों का करीब 25 फीसदी है। बैंक में कुल 73 हजार कर्मचारी हैं। पीएसयू बैंकों के देश में कुल 8 लाख से ज्यादा कर्मचारी हैं। जिसमें से 1.5 लाख से ज्यादा कर्मचारियों का ट्रांसफर होने की संभावना है।

 
CVC के फरमान का असर
इसके पहले पीएनबी में 11500 करोड़ रुपए का फ्रॉड सामने आने के बाद सेंट्रल विजिलेंस कमीशन ने सभी बैंक कर्मचारियों को निर्देश दिया था, कि ऐसे अधिकारी जो कि एक ही पोस्ट पर 3 साल से ज्यादा काम कर रहे हैं। साथ ही ऐसे कर्मचारी जो एक ही स्टेशन पर 5 साल से ज्यादा समय से जमे हैं, उनका ट्रांसफर किया जाय। पीएनबी फ्रॉड में यह सामने आया था मुख्य आरोपी गोकुलनाथ शेट्टी 7 साल से एक ही पोस्ट पर पोस्टेड था। इसी तरह क्लर्क मनोज खरात भी तय समय से ज्यादा पीरियड में उसी जगह पर काम कर रहा था। जिसकी वजह से 11 हजार करोड़ रुपए के घोटाले को अंजाम देना आसान हो गया ।
 
इस हफ्ते फाइनल हो जाएगी लिस्ट
बैंकिंग इंडस्ट्री के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सीवीसी की सख्ती के बाद सभी बैंक मैनेजमेंट ने लिस्ट तैयार करने के निर्देश दे दिए हैं। अगले एक से दो दिन में ऐसे कर्मचारियों की लिस्ट तैयार हो जाएगी। इसमें ऐसे कर्मचारी है जो कि 2 साल और 5 साल के नियमों का पालन नहीं करते हैं। सूत्रों के अनुसार ऐसे कर्मचारियों के अगले हफ्ते से तत्काल प्रभाव से नई जगह पर पोस्टिंग लेने के लिए कह दिया जाएगा।
 
कुल बैंक कर्मचारी                  ऑफिसर     क्लर्क
847398                 378783     321362
                 पुरुष    महिला पुरुष महिला
293059               85724   219687 101675
 
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट