Advertisement
Home » Economy » BankingHow contactless debit and credit card work

बैंकों ने लॉन्च किए कॉन्टैक्टलेस कार्ड, अब पेमेंट करते वक्त नहीं पड़ेगी OTP की जरूरत

पिन कोड या ओटीपी नंबर की जरूरत नहीं

1 of

नई दिल्ली।  31 दिसंबर 2018 से बंद हुए मैग्नेटिक रुपे एटीएम कार्ड के बाद अब बैंकों ने कॉन्टैक्टलेस डेबिट और क्रेडिट कार्ड लॉन्च किए हैं। एसबीआई, एचडीएफसी, आईसीआईसीआई, एक्सिस और आईडीबीआई जैसे बैंक अपने ग्राहकों को यह नए कार्ड्स दे  रहे हैं। पेमेंट्स को आसान बनाने के लिए बैंकों ने इन कार्ड्स में कई नए फीचर्स जोड़े हैं। जिसके चलते मॉल और दुकानों में दो हजार रुपए तक की शॉपिंग के लिए ग्राहकों को अब किसी भी तरह के पिन कोड या ओटीपी नंबर एंटर करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। 

 

नए कार्ड्स से क्लोनिंग का खतरा नहीं

ग्राहकों को 2000 रुपए तक की शॉपिंग पर बस अपने डेबिट या क्रेडिट कार्ड को मशीन पर टच करना होगा और पेमेंट हो जाएगी। इन कार्ड्स की सुरक्षा को लेकर एक्सपर्ट्स का कहना है कि  दो हजार रुपए तक तो बिना पिन कोड शॉपिंग की जा सकती है। हालांकि बैंक के ऐप के जरिए आप इसकी लिमिट तय कर सकते हैं। हालांकि बैंक अपने विज्ञापनों में इसे सुरक्षित बता रहे हैं। उनका कहना है कि इस सुविधा से कार्ड आपके हाथों में ही रहता है और क्लोनिंग का खतरा नहीं रहता है।

4 सेंटीमीटर की दूरी से कार्ड दिखाकर हो जाएगी पेमेंट

साथ ही इन कार्ड्स से तीन गुना तेज पेमेंट की जा सकती है। नए कार्ड्स पर एक खास निशान बना हुआ है। और जिन मशीनों पर इसका इस्तेमाल किया जाएगा  उनपर भी एक खास निशान बना हुआ है। करीब 4 सेंटीमीटर की दूरी से कार्ड दिखाकर आप पेमेंट कर सकते हैं। 

नए कार्ड के नुकसान भी

नए कार्ड को पेमेंट के दौरान स्वाइप करने और पिन एंटर करने की जरूरत नहीं पड़ती। इन  नए कार्ड से यदि आप 2 हजार रुपए से ज्यादा की शॉपिंग करते हैं तो ही ओटीपी या पिन एंटर करने की जरूरत होगी। इन कार्ड्स का एक नुकसान यह है कि यदि यह किसी और के हाथ लग गया तो वह आसानी से आपके कार्ड से पैसे निकाल सकता है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement