विज्ञापन
Home » Economy » BankingFraud cases in State Bank of India

SBI में हुई 7951 करोड़ की धोखाधड़ी, जानें बैंक ने बताया क्या कारण 

9 माह में सामने आए 1885 फ्रॉड केस, SBI ने स्वीकारा

Fraud cases in State Bank of India

Fraud cases in SBI : देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) में चालू वित्त वर्ष के शुरुआती नौ महीने (अप्रैल - दिसंबर 2018) के दौरान कुल 7,951.29 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी (Fraud) के मामले हुए हैं। बैंक ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। एसबीआई ने शेयर बाजार (Share Market) को दी सूचना में कहा कि ये सभी खाते बहुत पहले ही एनपीए बन गए थे और अधिकतर पोर्टफोलियो के लिए पहले से ही 100 फीसदी का प्रावधान किया गया है। 

 

नई दिल्ली. 
देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) में चालू वित्त वर्ष के शुरुआती नौ महीने (अप्रैल - दिसंबर 2018) के दौरान कुल 7,951.29 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी (Fraud) के मामले हुए हैं। बैंक ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। एसबीआई ने शेयर बाजार (Share Market) को दी सूचना में कहा कि ये सभी खाते बहुत पहले ही एनपीए बन गए थे और अधिकतर पोर्टफोलियो के लिए पहले से ही 100 फीसदी का प्रावधान किया गया है। 

 

बैंक ने क्या कहा 


इसके अलावा, बैंक ने कहा कि वे प्रावधान में अंतर को पूरा करने के लिए हर तिमाही में नए धोखाधड़ी के मामलों में अतिरिक्त प्रावधान करते हैं। इस संबंध में, सभी धोखाधड़ी से जुड़े मामलों में निर्धारित दिशानिर्देशों का पालन कर रहे हैं। कर्ज वसूली न्यायाधिकरण और अन्य तंत्र के माध्यम से वसूली के लिए भी समाधान प्रक्रिया चल रही है। 

 

1885 मामले सामने आए

 
बैंक ने बताया कि पहली तिमाही में कुल 723.06 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 669 मामले सामने आए। दूसरी तिमाही में 4832.42 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी से संबंधित 660 मामले प्रकाश में आए। तीसरी तिमाही में 2395.81 करोड़ रुपये की बैंकिंग धोखाधड़ी के 556 मामले सामने आए हैं।
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन