विज्ञापन
Home » Economy » BankingState Bank lowers lending rates by 5 bps across all tenors, effective April 10

बड़ी खबरः SBI का होमलोन हुआ सस्ता, 0.05% घटाई MCLR, 10 अप्रैल से लागू होंगी नई दरें

30 लाख रु तक का होमलोन हुआ 0.10 फीसदी सस्ता

State Bank lowers lending rates by 5 bps across all  tenors, effective April 10

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के सभी लोन सस्ते हो गए हैं। एसबीआई (SBI) सभी टेन्योर्स के लिए एमसीएलआर (MCLR) में 0.05 फीसदी की कमी कर दी है। नई दरें 10 अप्रैल से यानी बुधवार से प्रभावी हो जाएंगी।


नई दिल्ली. स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के सभी लोन सस्ते हो गए हैं। एसबीआई (SBI) सभी टेन्योर्स के लिए एमसीएलआर (MCLR) में 0.05 फीसदी की कमी कर दी है। नई दरें 10 अप्रैल से यानी बुधवार से प्रभावी हो जाएंगी। एसबीआई (SBI) द्वारा जारी बयान के मुताबिक, एक साल के लिए एमसीएलआर (MCLR) अब घटकर 8.50 फीसदी रह गई है। इसके अलावा 30 लाख रुपए तक का होमलोन 8.60-8.90 फीसदी ब्याज पर मिलेगा।

 

 

सभी तरह के लोन हुए सस्ते

एसबीआई (SBI) ने सभी अवधि के लिए एमसीएलआर में 0.5 फीसदी की कटौती की है। एसबीआई की 1 साल की एमसीएलआर 8.55 फीसदी से घटकर 8.50 फीसदी हो जाएगी। इसका मतलब है कि एमसीएलआर से लिंक सभी लोन पर ब्याज की दर 0.05 फीसदी घट जाएगी। इस तरह आपके लिए होम लोन, ऑटो लोन और पर्सनल लोन सस्ता हो जाएगा।

 

30 लाख तक के होम लोन पर घटी ब्याज दर

वहीं 30 लाख रुपए तक के होम लोन पर ब्याज दर 0.10 फीसदी घटा दी है। 30 लाख तक के होम लोन पर नई ब्याज दर 8.6 फीसदी से 8.9 फीसदी के बीच होगी। पहले यह दर 8.7 फीसदी से 9 फीसदी तक थी।

 

लोन को रेपो रेट से किया लिंग

बैंक ने लोन को रेपो रेट से भी लिंक कर दिया है। इसी कारण एसबीआई ने सेविंग रेट में भी बदलाव किया है। 1 लाख रुपए तक के बैलेंस पर अब 3.5 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा। वहीं 1 लाख से ऊपर के बैंलेस पर ब्याज की दर 3.25 फीसदी होगी। ये नई दर 1 मई 2019 से लागू होगी। 
1 लाख से ऊपर के सभी कैश क्रेडिट और ओवरड्राफ्ट अकाउंट को एसबीआई ने रेपो रेट से लिंक कर दिया है। हाल ही में रिजर्व बैंक ने ब्याज दरों में 0.25 फीसदी की कटौती की थी इसी को देखते हुए बैंक ने ये कटौती की है।

 

IOB ने 0.05% घटाया एमसीएलआर

वहीं सरकार के स्वामित्व वाले एक मिड-साइज बैंक इंडियन ओवरसीज बैंक (IOB) ने एक साल और उससे ज्यादा टेन्योर वाले सभी लोन के लिए एमसीएलआर (MCLR) 5 बीपीएस यानी 0.05 फीसदी घटाकर 8.65 फीसदी कर दी है, जो 10 अप्रैल से लागू होगी। लेंडर बैंक ने एक साल के लोन के लिए एमसीएलआर (MCLR) घटाकर 8.65 फीसदी कर दी है। वहीं दो और तीन साल के लोन के लिए इसे क्रमशः 8.75 फीसदी और 8.85 फीसदी कर दिया गया है।
 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss