बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Bankingकनिष्‍क गोल्ड बैंक फ्रॉड में ईडी ने शुरू की जांच, 824 करोड़ का मामला

कनिष्‍क गोल्ड बैंक फ्रॉड में ईडी ने शुरू की जांच, 824 करोड़ का मामला

करीब 824 करोड़ रुपए के बैंक फ्रॉड मामले में ईडी ने कनिष्‍क गोल्ड प्राइवेट लिमिटेड के खिलाफ जांच शुरू कर दी है।

ED starts probe into Kanishk Gold bank fraud

नई दिल्ली। करीब 824 करोड़ रुपए के बैंक फ्रॉड मामले में ईडी ने कनिष्‍क गोल्ड प्राइवेट लिमिटेड के खिलाफ जांच शुरू कर दी है। इस मामले में कंपनी की संपत्तियों की भी तलाश शुरू हो गई है। चेन्‍नई की कंपनी कनिष्‍क गोल्‍ड को 14 बैंकों के कंसोर्टियम ने लोन दिया था, जिसमें एसबीआई सबसे आगे है। यह लोन अब एनपीए घोषित हो चुका है। इस मामले में जांच एजेंसी सीबीआई ने एसबीआई की शिकायत पर एफआईआर दर्ज की गई है। 

 

इसके पहले केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई ने कनिष्‍क गोल्‍ड प्राइवेट लिमिटेड के डायरेक्‍टर्स भूपेश जैन और नीता जैन से पूछताछ की। साथ ही सीबीआई ने कनिष्‍क गोल्‍ड के प्रमोटर्स और डायरेक्‍टर्स के खिलाफ लूक-आउट सर्कुलर जारी कर दिया। 

 

SBI ने अकेले 240 करोड़ का लोन दिया 
जानकारी के अनुसार एसबीआई ने ज्वैलरी कंपनी को 240 करोड़ रुपए लोन दिया था। इसके अलावा पीएनबी ने 128 करोड़, आईडीबीआई ने 49 करोड़, बैंक ऑफ इंडिया ने 46 करोड़, सिंडिकेट बैंक ने 54 करोड़, यूनियन बैंक ने 53 करोड़, यूकों बैंक ने 45 करोड़, सेंट्रल बैंक ने 22 करोड़, कॉरपोरेशन बैंक ने 23 करोड़, बैंक ऑफ बड़ौदा ने 32 करोड़, तमिलनाडु बैंक ने 27 करोड़, एचडीएफसी बैंक ने 27 करोड़, आईसीआईसीआई बैंक ने 27 करोड़ और आंध्रा बैंक ने 32 करोड़ रुपए लोन दिया था। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट