Home » Economy » BankingPNB lost 2800 cr in last fiscal in various scam

नीरव मोदी स्कैम के पहले भी PNB में हुए फ्रॉड, पिछले फिस्कल में 2800 करोड़ का चूना

पिछले फाइनेंशियल में फ्रॉड के अलग-अलग मामलों में PNB को कुल 2800 करोड़ रुपए का चूना लगाया गया है।

1 of

नई दिल्ली। इस साल पीएनबी में 12700 करोड़ रुपए के मेगा स्कैम के पहले भी बैंक में बड़े स्तर पर फ्रॉड हुआ है। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार सरकार ने यह जानकारी दी कि पिछले फाइनेंशियल ईयर में फ्रॉड के 158 मामलों में बैंक को कुल 431 मिलियन डॉलर यानी 2800 करोड़ रुपए का चूना लगाया गया है। इस साल फरवरी में पीएनबी का मेगा स्कैम सामने आया, जिसमें हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चौकसे मुख्‍य आरोपी हैं।

 

बता दें कि दोनों ही आरोपी देश छोड़कर फरार हैं। मुख्‍य आरोपी नीरव मोदी ने तो बैंक का पैसा वापस लौटाने से भी मना कर दिया है। पीएनबी ने नीरव मोदी और मेहुल चौकसी की कंपनियों पर धोखाधड़ी के जरिए लेटर ऑफ अंडरटेकिंग हासिल कर फ्रॉड का आरोप लगाया है। 2010 से 2017 के बीच इन कंपनियों ने बैंक के कुछ कर्मचारियों के साथ मिलकर देश के सबसे बड़े बैंकिंग घोटाले को अंजाम दिया। 

 

PNB में अकेले फ्रॉड के 158 मामले
फरवरी में आए 12700 करोड़ के स्कैम को अबतक पीएनबी का सबसे बड़ा स्कैम माना जा रहा था। लेकिन फाइनेंस मिनिस्ट्री ने संसद को जानकारी दी कि मेगा स्कैम से पहले भी पीएनबी में ऐसे मामले हुए हैं। मिनिस्ट्री ने कहा कि अकेले पीएनबी में फाइनेंशियल ईयर 2016-17 में फ्रॉड के 158 मामले आए। पीएनबी ने इस मामले में किसी तरह का कमेंट नहीं किया है। 

 

PSU बैंकों को 19533 करोड़ रुपए का नुकसान
31 मार्च 2017 को खत्म हुए फाइनेंशियल ईयर में सरकारी बैंकों को 2718 मामलों में 19533 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ। इस मामले में पीएनबी के बाद दूसरें नंबर पर बैंक ऑफ इंडिया है, जिसे 2770 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। वहीं, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने 2420 करोड़ रुपए गंवाए हैं। बता दें कि रॉयटर्स ने ही यह जानकारी दी थी कि पिछले पांच सालों में भारतीय सरकारी बैंकों को 8670 लोन फ्रॉड के मामलों में 61260 करोड़ रुपए से अधिक का नुकसान हुआ है। 

 

 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Don't Miss