बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Bankingदो पहिया वाहनों के लोन में सबसे ज्‍यादा NPA गुजरात में, थाणे का रिकॉर्ड सबसे खराब

दो पहिया वाहनों के लोन में सबसे ज्‍यादा NPA गुजरात में, थाणे का रिकॉर्ड सबसे खराब

दो पहिया वाहनों के लोन में सबसे ज्‍यादा NPA गुजरात में दर्ज किया गया है।

1 of

 

मुम्‍बई. वर्ष 2017 में दो पहिया वाहनों की बिक्री में 32 फीसदी की बढ़ोत्‍तरी दर्ज की गई, जिसका सबसे बड़ा कारण नॉन बैंंकिंग फाइनेंस कंपनियों की तरफ से लोन उपलब्‍ध कराना रहा। लेकिन गुजरात में ऐसे सबसे ज्‍यादा मामले दर्ज हुए हैं जहां लोगों ने इन लोन पटाया नहीं है। अगर एक जिले ही बात की जाए महाराष्‍ट्र का थाणे जिला लोन न चुकाने वालों की लिस्‍ट में सबसे आगे है।

   

रिपोर्ट में खुलासा

CRIF हाईरिस्‍क मार्क के प्रबंध निदेशक कल्‍पना पांडे के अनुसार ज्‍यादातर वाहन कंपनियों ने नॉन बैंकिंग फाइनेंस कंपनियां बनाई जिससे लोन पर दो पहिया वाहनों की बिक्री बढ़ी। यह कंपनी प्रमुख क्रेडिट इनफॉरमेंशन फर्म में से एक है। इसके अनुसार दिसबंर 2017 तक दोपहिया वाहनों का लोन पोर्टफोलियो 39100 करोड़ रुपए का था। आंकड़ों के हिसाब से एनबीएफसी की लोन बढ़ने की गति 37 फीसदी दर्ज की गई है।

 

 

लोन लेने वालों की संख्‍या बढ़ रही

उन्‍होंने कहा कि लोन लेने वालों की संख्‍या बढ़ रही है, ऐसे में संभव है कि मार्च 2018 में समाप्‍त वित्‍तीय वर्ष में यह रिकॉर्ड टूट जाए। इस साल के शुरुआती 9 महीनों में लोग बांटने की गति में 35 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है।

 

 

महाराष्‍ट्र में सबसे ज्‍यादा लोन बंटा

आंकड़ों के अनुसार महाराष्‍ट्र में सबसे ज्‍यादा दो पहिया लोन बांटा गया है। इस राज्‍य में 579 करोड़ रुपए का लोन बांटा गया है।

 

 

NPA के मामले में गुजरात आगे

आंकड़ों से पता चला है कि दो पहिया वाहनों की लोन में NPA के मामले में गुजरात सबसे आगे रहा है। यहां पर बांटे गए कुल लोन में से करीब 3 फीसदी ऐसा है जिसकी 90 से 180 दिनों के बीच कोई किस्‍त नहीं आई है। इसके बाद महाराष्‍ट्र, कार्नाटक और राजस्‍थान का नबंर है।


जिलों के मामले में महाराष्‍ट्र का थाणे सबसे आगे

आंकड़ों के अनुसार दो पहिया वाहनों के लोन के NPA के मामले में अगर जिले के आधार पर देखा जाए तो महाराष्‍ट्र का थाणे जिला सबसे आगे है। यहां पर करीब 4.46 फीसदी लोन एनपीए हो गया है। इसके बाद अहमदाबार का नबंर है जहां पर ऐसे NPA का प्रतिशत 3.61 फीसदी है। इसके बाद गुजरात का जिला सूरत है जहां पर 3.61 फीसदी लोन एनपीए हो गए हैं। जहां तक दो पहिया वाहनों के कुल लोन में NPA का सवाल है तो यह करीब 2.02 फीसदी है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट