Advertisement
Home » इकोनॉमी » बैंकिंगCabinet approves merger of Dena and Vijaya Bank with Bank of Baroda

BOB में होगा देना और विजया बैंक का मर्जर, कैबिनेट ने दी मंजूरी

BOB में देना (Dena) और विजया बैंक (Vijaya Bank) के मर्जर का रास्ता साफ हो गया है।

Cabinet approves merger of Dena and Vijaya Bank with Bank of Baroda

 

नई दिल्ली. बैंक ऑफ बड़ौदा (BOB) में देना (Dena) और विजया बैंक (Vijaya Bank) के मर्जर का रास्ता साफ हो गया है। कैबिनेट ने बुधवार को तीनों बैंकों के मर्जर को मंजूरी दे दी है। इससे पहले BOB के बोर्ड ने मर्जर से पहले बैंकों के शेयर स्वैप रेश्यो भी तय कर दिया। पूर्व अनुमान के मुताबिक मर्जर के बाद बनने वाली एंटिटी का कुल बिजनेस लगभग 14.82 लाख करोड़ रुपए होगा। साथ ही नया बैंक एसबीआई और आईसीआईसीआई के बाद भारत का तीसरा बड़ा बैंक होगा।

 

 

नहीं होगी कोई छंटनी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक में कई फैसले लिए गए। केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, ‘कर्मचारियों की सेवा शर्तों पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा। मर्जर के बाद किसी तरह की छंटनी नहीं की जाएगी।’

Advertisement

एसबीआई में 5 बैंकों का भी हो चुका है विलय

गौरतलब है कि सरकार बड़े स्तर पर सरकारी बैंकों के मर्जर की दिशा में काम कर रही है। सरकार का अनुमान है कि अगले वित्त वर्ष की शुरुआत तक नई एंटिटी परिचालन में आ जाएगी। बीते साल स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) में उसके पांच सब्सिडियरी बैंकों का विलय कर दिया गया था।

 

सितंबर की शुरुआत में हुआ था फैसला

बीते साल सितंबर की शुरुआत में वित्त मंत्री अरुण जेटली की अगुआई वाले ‘अल्टरनेटिव मेकैनिज्म’ (एएम) ने ग्लोबल साइज के लेंडर तैयार करने के लिए तीन बैंकों के मर्जर का फैसला किया था, जो ज्यादा मजबूत और टिकाऊ हों। वित्त मंत्री ने मर्जर के बाद बनने वाली एंटिटी को कैपिटल सपोर्ट देने का भरोसा भी दिलाया था। इस मेकैनिज्म में रेल मंत्री पीयूष गोयल और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण भी शामिल थीं।

Advertisement


 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement
Don't Miss