बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Bankingआर्सेलर मित्‍तल ने SBI में जमा कराए 7000 करोड़, एस्‍सार स्‍टील खरीदने की कोशिश जारी

आर्सेलर मित्‍तल ने SBI में जमा कराए 7000 करोड़, एस्‍सार स्‍टील खरीदने की कोशिश जारी

दुनिया के बड़े स्‍टील मेकर में शामिल आर्सेलर मित्‍तल ने SBI में 7000 करोड़ रुपए जमा करा दिया है।

1 of

 

नई दिल्‍ली. दुनिया के बड़े स्‍टील मेकर में शामिल आर्सेलर मित्‍तल ने SBI में 7000 करोड़ रुपए जमा करा दिया है, जिससे उत्‍तम गाल्‍वा स्‍टील का लोन चुकाया जा सके। जानकारों का कहना है कि ऐसा होने के बाद उनकी कंपनी एस्‍सार स्‍टील के लिए बोली लगाने के योग्‍य हो जाएगी।

 

आर्सेलर मित्‍तल ने जब से बैंकरप्‍सी का सामना कर रही एस्‍सार स्‍टील के लिए बोली लगाई है, तभी से उनका उत्‍तम गाल्‍वा स्‍टील का बकाया लोन इसमें दिक्‍कत बताया जा रहा है। आर्सेलर मित्‍तल की उत्‍तम गाल्‍वा में पहले शेयर होल्डिंग रह चुकी है। इनसॉल्‍वेंसी एंड बैंकरप्‍सी कोड के तहत अगर किसी की ऐसी कंपनी में होल्डिंग रही है, जिसने लोन नहीं चुकाया है तो वह बोली लगाने से अयोग्‍य ठहराया जा सकता है।

 

7000 करोड़ रुपए चुकाया जाएगा लोन

इस मामले में एक जानकार के अनुसार स्‍टेट बैंक में एक स्‍क्रू अकाउंट में ट्रांसफर किए गए 7000 करोड़ रुपए से उत्‍तम गाल्‍वा और केएसएस पेट्रोन लिमिटेड का लोन चुकाया जाएगा। एस्‍सार स्‍टील पर 49 हजार करोड़ रुपए का कर्ज है, वह इसे चुका नहीं पा रही है। इसके चलते यह कंपनी इनसाल्‍वेंसी प्रॉसेस का सामना कर रही है, और आर्सेलर मित्‍तल इस कंपनी को खरीदना चाहती है।

 

15 मई को ट्रांसफर किया पैसा

आर्सेलर मित्‍तल ने यह पैसा एसबीआई में एक स्‍क्रू अकाउंट में आज डेड लाइन के अंतिम दिन ट्रांसफर किया है। 9 मई को कंपनी ने कमेटी ऑफ एस्‍सार स्‍टील क्रेडिटर्स से कहा था कि अगर उनकी बिड स्‍वीकार की जाती है तो वह पूरा कर्ज वापस करने का तैयार हैं। हालांकि कंपनी का कहना है कि अगर उनकी बिड स्‍वीकार नहीं की जाती है तो तब यह पैसा चुकाने का कोई मतलब नहीं रह जाता है।

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट