बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Bankingपत्‍नी को पति‍ की सैलरी जानने का पूरा हक : हाईकोर्ट

पत्‍नी को पति‍ की सैलरी जानने का पूरा हक : हाईकोर्ट

मध्‍यप्रदेश हाईकोर्ट ने एक मामले की सुनवाई के दौरान यह बात कही।

Wife has the right to know husband salary details

जबलपुर। एक महि‍ला को अपने पति‍ की सैलरी जानने का पूरा हक है। मध्‍यप्रदेश हाईकोर्ट ने एक मामले की सुनवाई के दौरान यह बात कही। न्‍यायमूर्ति‍ एस के सेठ और नंदि‍ता दुबे की पीठ ने गुजारे भत्‍ते को लेकर पत्‍नी की ओर से दायर याचि‍का   के दौरान कहा कि‍ एक महि‍ला को यह जानने का अधि‍कार है कि‍ उसके पति‍ को आखि‍र कि‍तना वेतन मि‍लता है।

 

इस मामले में सुनीता जैन ने अदालत से गुहार लगाई थी कि‍ उनसे अलग हो चुके उनके पति‍ बीएसएनएल में बड़े पद पर हैं और इस लि‍हाज से उन्‍हें ज्‍यादा गुजराभत्‍ता मि‍लना चाहि‍ए। 


निचली कोर्ट ने नहीं दी थी राहत 
सुनीता के वकील ने अदालत से कहा कि उनके पति पवन कुमार जैन बीएसएनएल में बड़े पद पर हैं और बहुत अच्‍छी सैलरी पाते हैं मगर वह अपनी पत्‍नी को केवल 7000 रुपए गुजारा भत्‍ते के तौर पर दे रहे हैं। सुनीता चाहती थीं कि उनके पति अदालत में अपनी सैलरी स्‍लि‍प पेश करें, मगर नि‍जली कोर्ट ने उनकी यह याचि‍का खारि‍ज कर दी। 


सीआईसी पहुंचा मामला 
यह मामला केंद्रीय सूचना आयोग (CIC) के पास पहुंचा। आयोग ने 27 जुलाई 2007 को बीएसएनएल के केंद्रीय जन सूचना अधि‍कारी को यह आदेश दि‍या कि वह पवन कुमार जैन की सैलरी स्‍लि‍प दें। हालांकि पवन ने इस आदेश को हाईकोर्ट की एकल पीठ में चुनौती दी। हाईकोर्ट ने सीआईसी के ऑर्डर को रद्द कर दि‍या।

इसके बाद सुनीता जैन ने हाईकोर्ट की डबल बेंच से अपील की, जि‍सने सुनवाई के दौरान यह माना कि पत्‍नी को पती की सैलरी जानने का अधि‍कार है। हाईकोर्ट की डबल बेंच ने सिंगल बेंच के फैसले को रद्द कर दि‍या। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट