बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Bankingरातों रात बदली 3.25 करोड़ कस्टमर्स की बैंक ब्रांच, पता करने का ये है प्रॉसेस

रातों रात बदली 3.25 करोड़ कस्टमर्स की बैंक ब्रांच, पता करने का ये है प्रॉसेस

बदल गए 6 बैंकों की 1,300 शाखाओं के नाम और IFSC कोड, ऐसे जानें अपनी ब्रांच का सही नाम पता

1 of

नई दिल्ली.  अगर आप कभी  स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर, स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद, स्टेट बैंक ऑफ मैसूर, स्टेट बैंक ऑफ पटियाला और स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर के साथ भारतीय महिला बैंक के कस्टमर रहे हैं तो आपकी बैंक ब्रांच बदल चुकी है। दरअसल पिछले साल स्टैट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) में विलय के बाद ये बैंक अब SBI का हिस्सा हो चुके हैं। इनके कस्टमर अब SBI के कस्टमर हैं और इनकी ब्रांच एसबीआई के नाम से ही जानी जाती है। इन सभी 6 बैंकों की ब्रांचों को पूर्ण रूप से अपने दायरे में लाने के लिए SBI ने इस बैंकों से जुड़ी  देश भर में फैली  1,295 ब्रांचों के नाम और उनके IFSC कोड्स में बदलाव कर दिया है। इस क्रम में SBI ने इन ब्रांचों के नए कोड के साथ ही नए IFSC कोड्स की लिस्ट जारी की है। 

 

रातों रात बदली 3.25 करोड़ कस्टमर्स की बैंक ब्रांच
SBI के इस फैसले के चलते करीब 3.25 करोड़ कस्टमर्स की रातों रात अब बैंक ब्रांच बदल चुकी है। दरअसल इन सभी 6  बैंकों का कस्टमर बेस करीब 3.25 करोड़ था। ब्रांच का  IFSC कोड और नाम बदलने के बाद ये सभी कस्टमर इस बदलाव की  इसकी जद में आएंगे। बता दें कि मर्जर से पहले एसबीआई का कुल कस्टमर बेस करीब 33.25 करोड़  (2016-17 की  Annual रिपोर्ट के मुताबिक) था। वहीं इस मर्जर के बाद उसका कस्टमर बेस बढ़कर 37 करोड़ हो गया था। 

 

पता करने का प्रॉसेस 
अगर आप भी इन सभी एसोसिएट बैंकों के कस्टमर थे, तो आप एसबीआई की वेबसाइट पर जानकार अपनी ब्रांच के नए नाम और पते क जानकारी हासिल कर सकते हैं।  इसके लिए आपको को SBI की आधिकारिक वेबसाइट sbi.co.in पर जाना होगा। यहां आप एनाउंसमेंट के कॉलम में जाइए। यहां नई और पुरानी ब्रांचों की लिस्ट दी गई है। यहां क्लिक करके आप जानकारी हासिल कर सकते हैं। सीधी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें । 

 

आगे पढें- दुनिया 53वां बड़ा बैंक है SBI 

दुनिया 53वां बड़ा बैंक है SBI
SBI एसेट्स के मामले में दुनिया के टॉप बैंकों में 53वें पायदान पर है। 30 जून, 2018 तक बैंक की कुल एसेट्स लगभग 33.45 लाख करोड़ रुपए थी। डिपॉजिट्स, अडवांसेस, कस्टमर एक्विजिशन और बैंकिंग आउटलेट्स के मामले में एसबीआई भारत का सबसे बड़ा बैंक है और चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही के अंत तक उसकी देश भर में 22,428 शाखाएं थीं। डिपॉजिट्स में बैंक का भारत में 22.84 फीसदी और एडवांसेस 19.92 फीसदी मार्केट शेयर है।

 

आगे पढ़ें- SBI के कर्मचारियों की संख्या 71,000 बढ़ी

 

SBI के कर्मचारियों की संख्या 71,000 बढ़ी
एसोसिएट्स बैंक और BMB के मर्जर से SBI की ब्रांचों की संख्या में 1,805 की कमी आ गई और उसके 244 एडमिनिस्ट्रेटिव ऑफिसेस में बदलाव किया गया। मर्जर के परिणामस्वरूप एसबीआई में 71,000 नए कर्मचारी जुड़ गए, जबकि पहले उसके कर्मचारियों की संख्या लगभग 2 लाख थी।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट