विज्ञापन
Home » Economy » Banking‌Rupay card soon to be launched in Bhutan

भारतीय रुपे का मुरीद हुआ ये पड़ोसी देश, अब विदेश में कर सकेंगे इससे लेनदेन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया बड़ा ऐलान

1 of

नई दिल्ली. पीएम मोदी ने देश में डिजिटल ट्रांजैक्शन के लिए स्वेदशी पेमेंट कार्ड Rupay लॉन्च किया था। साथ ही इसे प्रमोट करने का काम किया है। इस पर अमेरिकी पेमेंट कंपनी MasterCard और Visa आपत्ति जताते हुए आरोप लगाया था कि पीएम मोदी RuPay कार्ड को राष्ट्रवाद से जोड़कर बढ़ावा दे रहे है। इसे लेकर अमेरिकी प्रशासन से शिकायत की। हालांकि इसके बावजूद पीएम मोदी ने भूटान से एक करार किया है। इसके तहत भूटान अब अपने देश में RuPay कार्ड लॉन्च करेगा। 

 

पीएम मोदी पर RuPay को राष्ट्रवाद से जोड़ने का लगाया था आरोप 

दरअसल भारत रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की ओर से अमेरिकी पेमेंट कार्ड MasterCard और Visa से भारतीयों का डाटा भारत में सुरक्षित रखने का आदेश दिया था। अमेरिकी कंपनियों ने काफी विरोध के बाद भारत में डाटा सुरक्षित रखने के लिए राजी हुई। हांलांकि इससे पहले उनकी ओर से आरोप लगाया गया था कि पीएम मोदी RuPay कार्ड को राष्ट्रवाद से जोड़कर बढ़ावा दे रहे हैं। इस मामले को लेकर अमेरिकी कंपनियों ने अमेरिकी प्रशासन से इसकी शिकायत की। 

क्या है Rupay कार्ड

RuPay भारतीय कार्ड है। इसे साल 2012 में नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) की ओर से जारी किया गया था, जबकि मास्टर कार्ड और वीजा कार्ड विदेशी हैं। साथ ही मास्टरकार्ड और वीजा के मुकाबले रुपे कार्ड पर कम कमिशन लगता है। रुपे कार्ड का इस्तेमाल ज्यादा सुरक्षित माना जाता है क्योंकि इसका संचालन भारत के सर्वर से ही होता है। यही वजह है कि रुपे कार्ड से भुगतान की स्पीड भी ज्यादा होती है। हालांकि रुपे कार्ड से विदेशों में अबतब विदेशों में लेनदेन नहीं होता था। लेकिन अब इससे भूटान में लेनदेन किया जा सकेगा। साथ ही अन्य देशों में इस कार्ड के इस्तेमाल को बढ़ावा दिया जाएगा। 

 

भूटान जल्द लॉन्च करेगा RuPay कार्ड 

पीएम मोदी ने कहा कि भूटान सरकार ने शीघ्र ही RuPay Cards को लॉन्च करने का निर्णय लिया है। पीएम मोदी ने भूटान के इस निर्णय का आभार प्रकट किया और उम्मीद जताई कि इससे दोनों देशों के बीच आपसी संबंधों को और अधिक बल मिलेगा। भूटान के पीएम लोतेय शेरिंग ने भारत दौरे पर हैं, जहां उन्होंने पीएम मोदी से मुलाकात की। इस दौरान पीएम मोदी ने भूटान की पंचवर्षीय विकास योजना सहित अन्य मुद्दों पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि भारत, भूटान की 12वीं पंचवर्षीय योजना में 4500 करोड़ का योगदान देगा। यह योगदान भूटान के आर्थिक विकास में मदद करेगा। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss