Home » Economy » BankingMoney being fraudulently withdrawn from bank accounts

इन 4 बैंकों में है अकाउंट तो रहें अलर्ट, ग्राहकों के खाते से नि‍कल गए 1.5 करोड़

आधार का मि‍सयूज कर बैंक अकाउंट से लोगों के पैसे नि‍काले गए हैं।

1 of

नई दि‍ल्‍ली। सरकार ने आधार को बैंक अकाउंट से लिंक करवा दि‍या है। इसके बि‍ना अब ना तो कोई नया अकाउंट खुल सकता है और ना ही पुराने कि‍सी अकाउंट को ऑपरेट कि‍या जा सकता है। सरकार के इस आदेश का बैंकों और ग्राहकों ने पूरी तरह से पालन कि‍या मगर इसका खामि‍याजा भी उन्‍हें उठाना पड़ रहा है। आधार डाटा की सुरक्षा को लेकर कई बार सवाल उठ चुके हैं और हर बार सरकार की ओर से यही बयान आया है कि यह पूरी तरह से सुरक्षि‍त है।

 

मगर कुछ कुछ दि‍नों बाद ऐसी खबर आ ही जाती है, जिसमें आधार डाटा के मि‍सयूज की बात सामने आती है। अब ऐसी ही एक बड़ी खबर सामने आई है, जि‍से सरकार भी झुठला नहीं सकी और खुद स्‍वीकार कि‍या आधार का मि‍सयूज कर बैंक अकाउंट से लोगों के पैसे नि‍काले गए हैं। जानकारी के मुताबि‍क, आधार नंबर का मि‍सयूज कर बैंक खातों से तकरीब 1.5 करोड़ नि‍काल लि‍ए गए हैं। आगे पढ़ें इन चार बैंकों से नि‍काले गए रुपए आधार नंबर से कि‍या फ्रॉड 

आधार नंबर से कि‍या फ्रॉड 
वि‍त्‍त राज्‍य मंत्री शि‍व प्रताप शुक्‍ला ने बताया कि बैंकों की ओर से मि‍ले आंकड़ों के मुताबि‍क, इस तरह की घटनाएं सामने आई हैं कि ग्राहकों के आधार नंबर का इस्‍तेमाल कर उनके खातों से पैसे नि‍काल लि‍ए गए हैं। उन्‍होंने कहा कि इस तरह की घटनाओं को रोकने और दोषि‍यों को पकड़ने के लि‍ए कदम उठाए गए हैं। बैंक ऑफ इंडि‍या से 1.37 करोड़ रुपए नि‍काले गए हैं। सिंडि‍केट बैंक से 2.26 लाख रुपए नि‍काले गए हैं। इलाहाबाद बैंक के खाते से 1.95 लाख और यूको बैंक में ग्राहक के खाते से 0.49 लाख रुपए नि‍काले गए हैं। सिंडिकेट बैंक मामले में पुलि‍स ने केस को सुलझा लि‍या है। मगर इन घटनाओं से यह बात तो साफ गई कि कहीं न कहीं खामी जरूर है, जि‍सकी वजह से ऐसा हो रहा है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट