Home » Economy » Bankingचंदा कोचर शिखा शर्मा उषा अनंतसुब्रमण्‍यम facing allegations of irregularities एक्सिस बैंक, पीएनबी फ्रॉड, वीडियोकॉन केस shikha sharma chanda kochhar and usha ananthasubramanian

जिन महिलाओं के हवाले है 3 बैंकों का 18 लाख करोड़, अब वही हैं सवालों के घेरे में

चंदा कोचर, शिखा शर्मा और उषा सुब्रमण्‍यम देश की तीन बड़े बैंकों ICICI, Axis और इलाहाबाद बैंक की प्रमुख हैं।

1 of

नई दिल्‍ली। चंदा कोचर, शिखा शर्मा और उषा सुब्रमण्‍यम ऐसा नाम हैं, जिन्होंने पुरुषों के दबदबे वाले इंडियन बैंकिंग सेक्‍टर में अपने लिए खास मुकाम बनाया। इन तीनों ने देश की हजारों-लाखों लड़कियों के भीतर इस बात की उम्‍मीद भी दिखाई कि वो अपनी काबीलियत के दम पर दुनिया में छा सकती हैं। महिला होना उनकी सफलता की राह में रोड़ा नहीं बनेगा। 

 

संभालती है 18 लाख करोड़ का बिजनेस 
चंदा कोचर, शिखा शर्मा और उषा सुब्रमण्‍यम देश की तीन बड़े बैंकों ICICI,  Axis और इलाहाबाद बैंक की प्रमुख हैं। ऐसेट के हिसाब से देखें तो मौजूदा समय में  Axis बैंक के पास करीब 6.9 लाख करोड़, ICICI के पास 8.8 लाख करोड़ और इलाहाबाद बैंक के पास करीब 2.3 लाख करोड़ की एसेट है। अगर तीनों को मिला दिया तो करीब 18 लाख करोड़ रुपए की एसेट सामने आती है। सीधी भाषा में कहें तो ये तीनों महिला बैंकर मिलकर 18 लाख करोड़ रुपए का बिजनेस संभालर रही हैं। 

 

कामकाज के तरीकों पर गंभीर सवाल उठे 

पर हाल में उजागर हुए एक के बाद एक कई मामलों ने न सिर्फ भारतीय बैंकिंग सेक्‍टर में कामकाज के तरीकों पर गंभीर सवाल पैदा किए हैं, बल्कि इन तीनों की छवि पर भी गहरी चोट की है। कभी अपने-अपने बैंकों का चेहरा माने जाने वाली तीनों महिला बैंकर अब गंभीर आरोपों के घेरे हैं। इनपर भ्रष्‍टाचार करने और उसे शह देने के आरोप हैं। हालत यह है कि अब इनपर अपना पद छोड़ने का भारी दबाव है। आइए जानते हैं कि आखिर क्‍यों उनका बेहद शानदार रहा पेशवेर करियर अब सवालों के घेरे में है.. 

चंदा कोचर: ICICI बैंक की MD और CEO  

 

क्‍या हैं आरोप: ICICI बैंक द्वारा वीडियोकॉन ग्रुप को 3,250 करोड़ रुपए का लोन दिया गया। वीडियोकॉन ग्रुप ने इसमें से 2,810 करोड़ रुपए का लोन नहीं लौटाया। बैंक ने 2017 में इस लोन को एनपीए घोषित कर दिया था। आरोप है कि बैंक की ओर से वीडियोकॉन ग्रुप को दिया गया लोन चंदा कोचर के पति की कंपनी न्‍यूपॉवर में ट्रांसफर कर दिया गया। सीधी तौर पर कहें तो इस लोन का लाभ चंदा कोचर के परिवार को मिला।  

 

अब तक क्‍या हुआ: सेबी ने नोटिस जारी कर चंदा कोचर से पूरे मामले पर जानकारी देने को कहा है। ICICI बैंक के बोर्ड ने चंदा कोचर के खिलाफ स्‍वतंत्र जांच बिठा दी है। इस मामले में उनके पति और देवर से जांच एजेंसियां पूछताछ कर चुकी हैं। 

 

 


शिखा शर्मा: Axis बैंक की MD और CEO
 

क्‍या हैं आरोप: एक पेशेवर के तौर पर उनका कामकाज सवालों के घेरे में हैं। बैड लोन के क्लासिफिकेशन में डायवर्जन, इन्फ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में दिए बड़े लोन के फंसने, नोटबंदी के दौरान  Axis बैंक के अफसरों की संदिग्‍ध भूमिका के बाद भी बैंक बोर्ड ने उनका चौथा कार्यकाल बढ़ा दिया। 

 

अब तक क्‍या हुआ: आरबीआई ने शिखा को लगातार चौथी बार बैंक का MD और CEO नियुक्‍त करने पर सवाल खड़े किए। इसके चलते शिखा शर्मा के चौथे कार्यकाल को 3 साल से घटाकर 7 महीने का कर दिया गया। फिलहाल उनके उत्‍ताधिकारी की तलाश जारी है। 


 

ऊषा अनंत सुब्रमण्‍यम: इलाहाबाद बैंक की MD और CEO 

 

क्‍या हैं आरोप: नीरव मोदी और मेहुल चौकसी फ्रॉड केस की पूरी जानकारी ऊषा को थी। उषा उस वक्‍त पंजाब नेशनल बैंक (PNB) में MD और CEO थीं। CBI का आरोप है कि सुब्रमण्‍यम और बैंक के कुछ अन्य अधिकारी नीरव मोदी के 'धोखाधड़ी' वाले लेन-देन के बारे में जानते थे। इन लोगों ने चेतावनी को नजरअंजाद करते हुए RBI को भी 'गुमराह' किया।  

 

अब तक क्‍या हुआ: सीबीआई ने नीरवमोदी फ्राड केस की चार्जशीट में उषा का नाम शामिल किया। इसके बाद उषा समेत PNB के दो अन्‍य अफसरों की एग्‍जीक्‍यूटिव पॉवर छीन ली गई। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट