SBI के 42 करोड़ कस्‍टमर्स को होगा फायदा, ATM कार्ड पर लीजिए यह सुविधा

इस ऐप में खास एटीएम कार्ड की कंट्रोलिंग के लिए विशेष फीचर्स मौजूद हैं। इस ऐप के बारे में जानकारी देने के लिए एसबीआई ने अपने ट्विटर हैंडल पर ट्वीट भी किया है।

moneybhaskar

Mar 16,2018 02:56:00 PM IST

नई दिल्‍ली. SBI अपने ATM कार्ड धारकों को एक खास सुविधा दे रहा है। इससे SBI कस्‍टमर अपने ATM कार्ड को कंट्रोल कर सकते हैं। यह सुविधा है SBI क्विक ऐप। इस ऐप में खास एटीएम कार्ड की कंट्रोलिंग के लिए विशेष फीचर्स मौजूद हैं। इस ऐप के बारे में जानकारी देने के लिए SBI ने अपने ट्विटर हैंडल पर ट्वीट भी किया है।

SBI क्विक वैसे तो मिस्‍ड कॉल व SMS बैंकिंग सुविधा है। लेकिन अब इसका ऐप भी मौजूद है, जिससे आप और आसानी से SBI की सुविधा का लाभ ले सकते हैं। वैसे तो SBI क्विक में बाकी के SBI ऐप्‍स की तरह ही कई फीचर्स हैं लेकिन इसमें ATM कार्ड के लिए अलग से कुछ सुविधाएं हैं। दरअसल यह ऐप आपको अपने ATM कार्ड को ब्‍लॉक करने, ऑन या ऑफ करने और ATM पिन जनरेट करने की सुविधा उपलब्‍ध कराता है। यानी इसके जरिए आप अपने कार्ड की सिक्‍योरिटी का पूरा इंतजाम केवल स्‍मार्टफोन के माध्‍यम से कर सकते हैं। हालांकि इस ऐप को तभी इस्‍तेमाल किया जा सकेगा, जब जिस मोबाइल नंबर पर इस ऐप को डाउनलोड किया गया है वह बैंक में रजिस्‍टर्ड हो।

कैसे करता है काम

सबसे पहले इस ऐप को शुरू करने के लिए आपको रजिस्‍ट्रेशन कराना होगा। इसके लिए आपको ऐप के रजिस्‍ट्रेशन फीचर में जाकर जिस नंबर पर ऐप डाउनलोड किया है उसे एंटर करना है। इसके बाद आपका रजिस्‍ट्रेशन हो जाएगा।

आगे पढ़ें- कार्ड ब्‍लॉकिंग का क्‍या है प्रोसेस

कैसे होगी कार्ड ब्लॉकिंग अगर आपका ATM कार्ड खो गया है और आप इसे ब्लॉक कराना चाहते हैं तो आपको ऐप के ATM कम डेबिट कार्ड फीचर में जाकर ATM कार्ड ब्लॉकिंग सिलेक्ट करना है। उसके बाद अपने कार्ड के आखिरी 4 डिजिट एंटर करके कंटीन्यू पर सिलेक्ट करना है। इस सर्विस के लिए आपको कुछ चार्ज भी देना होगा। अगर आप SMS के जरिए ऐसा करना चाहते हैं तो आपको BLOCK-- space--डेबिट कार्ड के आखिरी 4 डिजिट लिखकर 567676 पर SMS करना है। आगे पढ़ें- कैसे करें स्विच ऑन या ऑफATM को कैसे कर सकेंगे स्विच ऑन या ऑफ इसके जरिए आप अपने ATM कार्ड को किसी भी एटीएम मशीन, पीओएस मशीन, ई-कॉमर्स, इंटरनेशनल और डॉमेस्टिक इस्तेमाल के लिए स्विच ऑन या ऑफ कर सकते हैं। इसके लिए आपको ऐप के एटीएम कम डेबिट कार्ड फीचर में जाकर अपने कार्ड के आखिरी 4 डिजिट डालकर एटीएम कार्ड स्विच ऑन/ऑफ पर क्लिक करना है। उसके बाद जिस ऑप्शंस चुन सकते हैं और स्विच ऑन या ऑफ कर सकते हैं। आगे पढ़ें- ऐसा मैसेज से कैसे होगामैसेज से कैसे होगा ATM ऑन या ऑफ अगर आप मैसेज से ऐसा करना चाहते हैं तो आपको SMS 09223588888 पर भेजना है। मैसेज भेजने का फॉर्मेट इस तरह है- ATM ट्रान्जेक्शंस स्विच ऑन के लिए- SWONATM-- space-- कार्ड के अंतिम 4 डिजिट स्विच ऑफ के लिए- SWOFFATM-- space--कार्ड के अंतिम 4 डिजिट POS स्विच ऑन के लिए- SWONPOS-- space--कार्ड के अंतिम 4 डिजिट स्विच ऑफ के लिए- SWOFFPOS-- space--कार्ड के अंतिम 4 डिजिट e-commerce इस्तेमाल के लिए स्विच ऑन के लिए- SWONECOM-- space--कार्ड के अंतिम 4 डिजिट स्विच ऑफ के लिए- SWOFFECOM कार्ड के अंतिम 4 डिजिट इंटरनेशनल ट्रान्जेक्शंस स्विच ऑन के लिए- SWONINTL-- space-- कार्ड के अंतिम 4 डिजिट स्विच ऑफ के लिए- SWOFFINTL-- space--कार्ड के अंतिम 4 डिजिट डॉमेस्टिक ट्रान्जेक्शंस स्विच ऑन के लिए- SWONDOM-- space--कार्ड के अंतिम 4 डिजिट स्विच ऑफ के लिए- SWOFFDOM-- space--कार्ड के अंतिम 4 डिजिट आगे पढ़ें- क्या हैं बाकी के फीचरबाकी कौन से फीचर हैं मौजूद ATM कंट्रोलिंग के अलावा SBI क्विक में बैलेंस इन्क्वायरी, मिनी स्टेटमेंट, कार लोन-होम लोन की डिटेल पाने, PM सोशल सिक्योरिटी स्कीम्स में इनरॉलमेंट, अकाउंट डिरजिस्टर करने, अकाउंट स्टेटमेंट, होम लोन इंट्रेस्ट सर्टिफिकेट और एजुकेशन लोन सर्टिफिकेट ई-मेल के जरिए पाने की भी सुविधा मौजूद है। आगे पढ़ें- बाकी ऐप से कैसे अलगSBI एनीवेयर से कैसे है अलग SBI क्विक, SBI एनीवेयर और SBI फ्रीडम से दो मामलों में अलग है। बैंक के FAQ में मौजूद जानकारी के मुताबिक, SBI क्विक में कस्टमर को लॉग इन आईडी और पासवर्ड की जरूरत नहीं होती। केवल एक बार रजिस्ट्रेशन के बाद आप इसे ऑपरेट कर सकते हैं। इसके अलावा यह ऐप किसी भी तरह के फाइनेंशियल ट्रान्जेक्शन की सुविधा नहीं देता है।
X
COMMENT

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.