Home » Economy » BankingSBI rules going to be effective from 1st April 2018

SBI कस्‍टमर्स ध्‍यान दें: 1 अप्रैल से बैंक करने वाला है ये बदलाव

1 अप्रैल नजदीक है और फिर नया वित्‍त वर्ष 2018-19 शुरू हो जाएगा। इसके साथ ही लागू हो जाएंगे SBI के कुछ नए नियम।

1 of

नई दिल्‍ली. 1 अप्रैल नजदीक है और फिर नया वित्‍त वर्ष 2018-19 शुरू हो जाएगा। इसके साथ ही लागू हो जाएंगे SBI के कुछ नए नियम। दरअसल SBI ने ब्‍याज दर, पेनल्‍टी आदि के मामले में कुछ बदलाव किए हैं, जो 1 अप्रैल 2018 से प्रभावी होने वाले हैं। आपका इन्‍हें जान लेना जरूरी है ताकि नए वित्‍त वर्ष में आपको परेशानी नहीं उठानी पड़े। आइए आपको बताते हैं ऐसे ही 3 बदलावों के बारे में, जिन्‍हें बैंक नए वित्‍त वर्ष में लागू करने वाला है। 

 

सेविंग्‍स अकाउंट के मिनिमम बैलेंस पर नई पेनल्‍टी

SBI ने सेविंग्‍स अकाउंट में मंथली एवरेज बैलेंस (MAB) मेंटेन नहीं करने पर लगने वाली पेनल्टी को 75 फीसदी तक घटा दिया है। ऐसे में अब किसी भी कस्टमर को 15 रुपए प्‍लस GST से ज्यादा पेनल्टी नहीं देनी पड़ेगी। अभी तक यह अधिकतम 50 रुपए प्‍लस GST थी। बैंक कस्टमर्स को घटी हुई पेनल्टी का फायदा एक अप्रैल से मिलेगा। SBI के इस फैसले से 25 करोड़ कस्‍टमर्स को फायदा होने वाला है। 15 रुपए पेनल्‍टी अब मेट्रो और शहरी क्षेत्रों के SBI कस्‍टमर्स के लिए है। वहीं अर्धशहरी, व ग्रामीण इलाकों के कस्‍टमर्स के लिए पेनल्‍टी को 40 रुपए प्‍लस GST से घटाकर 12 और 10 रुपए प्‍लस GST कर दिया गया है।

 

 

मेट्रो और शहरी  ब्रांच में (मासिक औसत बैंलेंस 3000 रु) नई पेनल्टी मौजूदा पेनल्टी
50% तक बैलेंस कम होने पर 10 रु 30 रु
50% से ज्यादा और 75% तक बैलेंस कम होने पर 12 रु 40 रु
75% से ज्यादा बैलेंस कम होने पर 15 रु 50 रु
अर्द्ध शहरी  ब्रांच में (मासिक औसत बैंलेंस 2000 रु)    
50% तक बैलेंस कम होने पर 7.50 रु 20 रु
50% से ज्यादा और 75% तक बैलेंस कम होने पर 10 रु 30 रु
75% से ज्यादा बैलेंस कम होने पर 12 रु 40 रु
ग्रामीण ब्रांच में (मासिक औसत बैंलेंस 1000 रु)    
50% तक बैलेंस कम होने पर 5 रु 20 रु
50% से ज्यादा और 75% तक बैलेंस कम होने पर 7.5 रु 30 रु
75% से ज्यादा बैलेंस कम होने पर 10 रु 40 रु

(नोट- पेनल्‍टी की नई दरें 1 अप्रैल से प्रभावी होंगी। जीएसटी अलग से देय होगा।)

 

आगे पढ़ें- सहयोगी बैंकों की पुरानी चेकबुक नहीं करेंगी काम 

 
 

सहयोगी बैंकों की चेक बुक हो जाएंगी रद्द

SBI में विलय हुए इसके सहयोगी बैंकों स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर (SBBJ), स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद (SBH), स्टेट बैंक ऑफ मैसूर (SBM), स्टेट बैंक ऑफ पटियाला (SBP), स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर (SBT) और भारतीय महिला बैंक के चेक 31 मार्च के बाद काम नहीं करेंगे। इस बारे में बैंक बार-बार आगाह कर चुका है। SBI इन सभी बैंकों और इनके कस्‍टमर्स से 31 मार्च तक नई चेकबुक इश्‍यू करा लेने को भी कह चुका है। 

 

आगे पढ़ें- इलेक्‍टोरल बॅान्‍ड की बिक्री हो जाएगी शुरू 

मिलने लगेंगे इलेक्‍टोरल बांड

सरकार ने SBI को इलेक्‍टोरल बॉन्‍ड की दूसरी सीरिज को बेचने के लिए अधिकृत किया है। इन बॉन्‍ड की बिक्री 2 अप्रैल से 10 अप्रैल के बीच बैंक की 11 शाखाओं में की जाएगी। इन्‍हें जारी करने वाली बैंक की शाखाओं में ही कैश भी कराया जा सकेगा। यह बॉन्‍ड 15 दिनों के लिए ही वैलिड होते हैं। इन्‍हें खरीदने वालों को 15 दिनों के अंदर ही संबंधित पार्टी को देना पड़ता और उन्‍हें भी इन्‍हीं 15 दिनों के अंदर ही कैश कराना होगा। इसके बाद इनके बदले कोई भी पैसा नहीं मिलेगा। इससे पहले भी सरकार SBI के माध्‍यम से इन्‍हें एक बार बेच चुकी है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट