बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Bankingमहंगाई में नरमी, RBI अगस्‍त में 0.25 फीसदी घटा सकता है ब्‍याज दरें: BofAML

महंगाई में नरमी, RBI अगस्‍त में 0.25 फीसदी घटा सकता है ब्‍याज दरें: BofAML

यदि मानसून नॉर्मल रहता है तो रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) अगस्‍त में ब्‍याज दरें 0.25 फीसदी घटा सकता है।

1 of

नई दिल्‍ली.  महंगाई में नरमी आ रही है और यदि मानसून नॉर्मल रहता है तो रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) अगस्‍त में ब्‍याज दरें 0.25 फीसदी घटा सकता है। ग्‍लोबल फाइनेंशियल सर्विसेज बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच (BofAML) की एक रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है। रिपोर्ट के अनुसार, महंगाई बढ़ने का जोखिम कम हुआ है। जनवरी में महंगाई दर 5.1 फीसदी पर रही, जो दिसंबर के 5.2 फीसदी से कम है। 

 

BofAML का मानना है कि टमाटर और प्‍याज की कीमतों में कमी से फरवरी में महंगाई दर 4.7 फीसदी पर रह सकती है। बता दें, रिजर्व बैंक ने बीते 7 फरवरी को लगातार तीसरी बार पॉलिसी रेट में कोई बदलाव नहीं किया और रेपो रेट को 6 फीसदी पर बरकरार रखा। आरबीआई ने महंगाई को देखते हुए ऐसा किया। 

 

ला- नीना देगा साउथवेस्‍ट मानसून को बूस्‍ट 

BofAML के रिसर्च नोट के अनुसार, हम उम्‍मीद करते हैं, आरबीआई की मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी (एमपीसी) बेस इफेक्‍ट के चलते अप्रैल-जून में महंगाई में आई तेजी को देखेगा। इसे देखते हुए हमें उम्‍मीद है कि यदि मानसून सामान्‍य (ला-नीना की स्थिति) रहता है तो अगस्‍त में 0.25 फीसदी की कटौती आरबीआई कर सकता है। ला- नीना के चलते साउथवेस्‍ट मानसून को बूस्‍ट मिलता है। 

 

RBI की ओर से ब्‍याज दरों में 0.25 फीसदी कटौती के बाद यदि बैंक होम लोन और कार लोन पर इतना ही ब्‍याज घटाते हैं तो जानिए कस्‍टमर्स की ईएमआई पर कितना होगा असर- 

 होम लोन इंटरेस्‍ट रेट लोन की अवधि ईएमआई रेट कट के बाद EMI  
25 लाख  8.30% 20 साल  21380 रु 20989 रु

 

कार लोन   इंटरेस्‍ट रेट लोन की अवधि ईएमआई रेट कट के बाद ईएमआई 
5 लाख  9.10%  6 साल  9038 रु 8951 रु

(नोट- यह कैलकुलेशन SBI के मौजूदा कार लोन इंटरेस्‍ट 9.10% पर किया गया है।) 

 
 

आगे पढ़ें... MPC के बजट ऐलान का क्‍या होगा असर

 

MPC के बजट एलान को होगा असर 

रिपोर्ट के अनुसार, बजट 2018 में मिनिमम सपोर्ट प्राइस (एमएसपी) बढ़ाने के एलान से महंगाई का असर कम हो सकता है क्‍योंकि थोक बाजार में कीमतें पहले ही संशोधित एमएसपी से ज्‍यादा हैं। 

 

4.8% रहेगी औसत महंगाई  

BofAML की रिपोर्ट के अनुसार, हम वित्‍त वर्ष 2018-19 के लिए औसत महंगाई 4.8 फीसदी रहने की उम्‍मीद कर रहे हैं। यह आरबीआई के 2-6 फीसदी की महंगाई दर के टारगेट के दायरे में ही है। आरबीआई ने 2018-19 की पहली छमाही में महंगाई दर 5.1-5.6 फीसदी के बीच रहने का अनुमान जताया है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट